गुजरात में सवर्णों ने दलितों के बाल काटने वाले नाई को पीटा, गांव में दहशत

गुजरात में एकबार फिर दलितों के साथ भेदभाव और मारपीट की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। मेहसाणा जिले में सवर्णों ने एक नाई की महज इस बात के लिए पिटाई कर दी, क्योंकि नाई ने एक दलित के बाल काटे थे। सवर्णों ने अपने बेटे को बचाने आई नाई की मां के साथ भी मारपीट की। पुलिस ने बताया कि ताजा घटना मेहसाणा जिले के सतलासणा तहसील के उमरेला गांव की है। मामले में अब तक पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। घटना के बाद इलाके में तनाव के माहौल को देखते हुए गांव में सुरक्षाबल तैनात कर दिए गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, रविवार को कुछ सवर्ण तबके से ताल्लुक रखने वाले लोग नाई की दुकान पर पहुंचे और उसे यह कहकर पीटने लगे कि वह दलितों के बाल क्यों काटता है। इस बीच शोर-शराबा सुनकर नाई युवक की मां भी वहां पहुंच गईं और बीच-बचाव करने लगीं। इस पर सवर्णों ने नाई की मां की भी पिटाई कर दी। हमले में नाई की मां भी बुरी तरह जख्मी हो गईं। पुलिस ने बताया कि दोनों को बडनगर के सिविल हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है। पीड़ित नाई समुदाय के युवक ने बताया कि गांव के ही गोविंद चौधरी नाम के व्यक्ति ने उस पर हमला किया।

गांव के निचली जाति के लोग ऊंची जाति के लोगों की दबंगई से काफी डरे हुए हैं

नाई की शिकायत पर पुलिस ने गोविंद चौधरी के अलावा नानजी चौधरी, राजेश चौधरी और वसंत चौधरी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल गांव में दहशत का माहौल है। गांव के निचली जाति से आने वाले लोग ऊंची जाति के लोगों की दंबहई से काफी डरे हुए हैं।

मोटरसाइकिल पर शिवाजी का स्टीकर लगा होने पर की पिटाई

बता दें कि मेहसाणा के बहुचारजी इलाके से एक दलित युवक की सवर्णों द्वारा पिटाई का मामला भी सामने आया है। जानकारी के मुताबिक, सवर्णों ने दलित युवक की महज इसलिए पिटाई कर दी, क्योंकि उसने अपनी मोटरसाइकिल पर शिवाजी का स्टीकर लगा रखा था।

इस मामले में भी पुलिस ने 13 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है और पांच लोगों को हिरासत में भी ले लिया है। पुलिस ने बताया कि सवर्णों ने दलित युवक के घरवालों को भी जान से मारने की धमकी दी और दलित युवक के परिवार की एक महिला के साथ भी मारपीट की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here