जब कांवड़िए से खुद बोले भोले भंडारी-“अरे भाई हेलमेट तो पहन लो”

हरिद्वारः कावड़ मेले में दूर दूर से कांवड़िएं जितने पैदल आते हैं, उससे कहीं अधिक कांवड़िए दुपहिया वाहन पर जल भरने आते हैं लेकिन बड़ी बात ये कि ये कांवड़िए अपनी जान जोखिम में डालकर ये यात्रा करते हैं. इन कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए लिए हरिद्वार पुलिस ने अनोखी पहल करते हुए भगवान शंकर को सड़क पर उतार बिना हेलमेट पहने कावड़ियों को हेलमेट पहनाने की ज़िम्मेदारी दी है. भगवान शंकर के अनुरोध को कांवड़िये भी नकार नहीं पा रहे हैं.

 

आपको बता दें कि कावड़ के दौरान दुपहिया वाहन चालक बिना हेलमेट लगाए हाइवे पर सरपट दौड़ते हैं, जिससे कारण अक्सर सड़क दुर्घटनाएं होती हैं. इसी को रोकने के लिए अब भगवान शंकर इन्हें जागरूक करते हुए हेलमेट पहना रहे हैं.

 

कांवड़ियों का कहना है कि वे भगवान शंकर की अपील को मंजूर कर हेलमेट पहन रहे हैं. लोगों को हेलमेट पहना रहे भोले शंकर का कहना है कि शिवजी के भेष में खड़ा होने का कारण लोगों को जागरूक करना है वे उन्हें हेलमेट पहनकर दुर्घटना से बचाना चाहते हैं क्योकि खुद भोले बने निशांत के कांवड़ ले जाते समय कई दुर्घटना देखी थी. इसीलिए इस बार कावड़ मेले में वो कावड़ियों को हेलमेट के लिए प्रेरित कर रहे है. उनका कहना है कि कावड़िये उनकी बात मान भी रहे हैं.

 

पुलिस कावड़ के दौरान वाहनों का चालान नहीं कर पाती लेकिन इस बार सीपीयू ने नई पहल करते हुए कांवड़ियों को हेलमेट पहनाए जो कावड़ियों के हित में है.

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here