मायावती पर केशव प्रसाद मौर्य का पलटवार, कहा- दलितों और पिछड़ों का वोट बेंचकर नोट इकट्ठा कर रही हैं

 

उत्तर प्रदेश के देवरिया कांड को लेकर ​प्रदेश में सियासत तेज है. एक तरफ जहां विपक्ष ने मामले में योगी सरकार को कटघरे में खड़ा किया है, वहीं दूसरी तरफ सरकार विपक्ष को मामले में राजनीति करने का आरोप लगा रही है. इसी क्रम में यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का बयान आया है. उन्होंने कहा कि राजनीति करने वाले शीशे के घर में हैं और ये पाप उन्हीं के समय का है. उन्होंने कहा कि मीडिया वाले बस पर्दाफाश करें.

 

वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा आर्थिक आधार पर आरक्षण की बात कहने पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मायावती जी वोटों की विक्रेता रही हैं. उन्होंने कहा कि काफी पहले से वो दलितों और पिछड़ों का वोट बेंचकर नोट इकट्ठा कर रही हैं. अब उनकी दुकान बंद हो चुकी है. हम अच्छे से अच्छा काम कर रहे हैं. ऐसे में वह केवल बयान देती हैं और पटाखा फोड़कर अंदर चली जाती हैं.

 

बता दें बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने लोकसभा में पास हुए अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण संशोधन विधेयक 2018 का स्वागत किया है. यही नहीं केंद्र सरकार द्वारा पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिए जाने के कदम का भी समर्थन किया है. साथ ही अपनी आर्थिक आधार पर भी आरक्षण की अपनी मांग दोहराते हुए कहा है कि इस संबंध में केंद्र सरकार संविधान संशोधन विधेयक लाती है तो बसपा इसका समर्थन करेगी.

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here