मुस्लिम पार्टी’ विवाद के बीच राहुल का ट्वीट, कहा- ‘मैं कांग्रेस हूं’

 

कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी बताने के विवाद के बीच राहुल गांधी ने एक नया ट्वीट किया है। उनका कहना है, कांग्रेस कतार में खड़े आख़िरी आदमी के साथ है। आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने पिछले हफ़्ते आजमगढ़ की एक रैली में पूछा था कि कांग्रेस सिर्फ मुस्लिम पुरुषों पार्टी है या फिर मुस्लिम महिलाओं की भी। हालांकि राहुल से मिलने वाले मुस्लिम बुद्धिजीवियों के मुताबिक राहुल ने ऐसा कुछ नहीं कहा।

 

मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘मैं पंक्ति में सबसे आखिर में खड़े शख्स के साथ हूं…शोषित, हाशिए पर खड़े और सताए गए लोगों के साथ हूं। उनका धर्म, उनकी जाति, आस्था मेरे लिए खास मायने नहीं रखती। जिन्हें भी दर्द है, पीड़ा है, मैं उन्हें गले लगाना चाहता हूं। मैं नफरत और भय को मिटाना चाहता हूं। मुझे सभी जीवों से प्यार है। मैं कांग्रेस हूं।’

 

 

वहीं उर्दू अखबार इंकलाब में कांग्रेस के अल्पसंख्यक मोर्चे के अध्यक्ष नदीम जावेद के हवाले से ये ख़बर छपी। खबर के मुताबिक राहुल गांधी ने कहा अगर बीजेपी कहती है कि कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है तो ठीक है। कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है, क्योंकि मुसलमान कमज़ोर हैं और कांग्रेस हमेशा कमज़ोरों के साथ खड़ी रही है। इसी बयान के आधार पर बीजेपी बताने में लगी है कि राहुल ने कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी बताया है। नदीम जावेद का कहना है, इस बात को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है।

 

गौरतलब है कि हाल ही में एक उर्दू दैनिक ने दावा किया था कि गांधी ने मुस्लिम समाज के बुद्धिजीवियों के साथ बैठक में कहा था कि ‘कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है। ’ कांग्रेस ने इस खबर को ‘कोरी अफवाह’ करार दिया है और दावा किया है कि असल मुद्दों और ‘नरेंद्र मोदी सरकार की विफलताओं’ से ध्यान भटकाने के लिए अफवाहें फैलाई जा रही हैं।

 

क्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस पर 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले देश को मजहब के आधार पर बांटने का आरोप लगाया तो खुद पीएम मोदी ने भी आजमगढ़ में इसे लेकर तंज कसा और पूछा था कि कांग्रेस बताए कि वह सिर्फ मुस्लिम पुरुषों की पार्टी है या मुस्लिम महिलाओं की भी। जवाब में कांग्रेस ने अखबार की रिपोर्ट को गलत बताते हुए बीजेपी पर फेक न्यूज फैलाने का आरोप लगाया था।