यदि ‘नरेंद्र मोदी’ दोबारा सत्ता में नहीं आये तो भारत का सारा विकास रुक जायेगा: अमेरिकी विशेषज्ञ

यदि इस बार भारत में लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी दोबारा जीतकर सत्ता में नहीं आते तो भारत की सारी प्रगति रुक जाएगी’ यह कहना हैं अमेरिकी शीर्ष उद्योगपतियों का. अमेरिकी उद्योगपतियों ने भारत के विकास के लिए नरेंद्र मोदी का 2019 में फिर से भारत का प्रधानमंत्री बनना जरुरी बताया है.

 

वाशिंगटन में गुरुवार को यूएस-इंडिया स्ट्रेटजिक एंड पार्टनरशिप फोरम (यूएसआईपीएफ) के वार्षिक सम्मेलन में शामिल अमेरिका के शीर्ष उद्योगपतियों का कहना है कि भारत के विकास और प्रगति को जारी रखने के लिए अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दोबारा जीतना जरूरी है. यूएसआईपीएफ के चेयरमैन जॉन चैंबर्स का कहना है कि “अगर मोदी दोबारा सत्ता में नहीं आए तो भारत का विकास तो रुक ही जाएगा साथ ही साथ देश की समावेशी प्रगति खत्म हो जाएगी”.

 

इस अवसर पर सीआईएससीओ के पूर्व चेयरमैन तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी जॉन चैंबर्स ने भारतीय पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि भारत के पास अभी दुनिया में सबसे मजबूत समावेशी प्रगति वाला राष्ट्र बनने का अवसर है. उन्होंने कहा है कि “मोदी में अपने देश को एक दशक आगे ले जाने का सामर्थ्य है. उन्होंने कहा जहां तक मेरी धारणा की बात है तो मोदी अपने देश को सही दिशा की तरफ ले जा रहे हैं”.

 

जॉन चैंबर्स यहीं नहीं रुके उन्होंने  यहां तक कहा कि अगर इस बार मोदी को दोबारा मौका नहीं मिला तो यह भारत  के लिए दुर्भाग्यपूर्ण होगा न कि मोदी के लिए, इसलिए वह चाहते हैं कि भारत के लोग इस बार मोदी को दूसरा अवसर दें ताकि वह अपना विजन पूरा कर सकें. पत्रकारों द्वारा पूछे गए इस सवाल पर कि यदि 2019 में मोदी दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बने? चैंबर्स ने कहा कि “मोदी साहसी है वही अकेला एक शख्स हैं जो हर दिन अपने देश की हित की चिंता करते हुए उठते हैं’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here