Breaking Tube
Breaking Crime News Politics

सहयोगी बोला- सपा नेता ने ही की पत्नी की हत्या, शव को पत्थर से बांधकर नहर में फेंकने के दौरान पलट गई थी नाव

chitrakoot

चित्रकूट (chitrakoot) में पूर्व ब्लॉक प्रमुख दशोदिया देवी के नाती समाजवादी पार्टी नेता भरत दिवाकर और उसकी पत्नी मीन उर्फ नमिता के अचानक लापता होने के 35 घंटे बाद प्रयागराज से आई एसडीआरएफ की टीम ने महिला का शव बरुआ बांध से खोज निकाला है। बताया जा रहा है कि महिला की गला दबाकर हत्या करने के बाद बोरे में पत्थर भरकर शव को बांधा गया था।


जानकारी के मुताबिक, मृतक महिला के गले में निशान से यह स्पष्ट हो गया कि उसकी गला दबाकर मारा गया था। देर शाम तक तमाम प्रयास के बाद भी सपा नेता का सुराग नहीं लग सका। दूसरे दिन भी सैकड़ों लोगों का हुजूम बांध के पास मौजूद रहा। वहीं, इस कांड में सीसीटीवी फुटेज से साफ हुआ है कि मंगलवार को भरत दिवाकर ने अपनी पत्नी मीनू के साथ एक मिठाई की दुकान से मिठाई खरीदी थी और एक होटल से पत्नी संग भोजन किया था।


Also Read: आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, निर्वाचन रद्द करने के HC के फैसले पर रोक से इनकार


एसडीआरएफ भरत दिवाकर की तलाश कर रही है। उधर, सपा नेता के ठेके की देखरेख करने वाले रामसेवक दूसरे दिन भी अपने बयान पर कायम रहा। उसका कहना था कि सपा नेता ने ही पत्नी की हत्या कर शव बांध में फेंकने के लिए नाव से ले गया और फिर नाव पलटने से सपा नेता और वह (रामसेवक) भी पानी में गिरे, लेकिन वह तैरकर बाहर आ गया और सपा नेता का कुछ पता नहीं चल सका है।


Also Read: प्रत्येक तहसील में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने और संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर तीन महीने में निर्णय ले केंद्र सरकार


उधर, लोगों का कहना है कि सपा नेता का भी शव इसी बांध में होगा। गौरतलब है कि मंगलवार की रात पत्नी मीनू उर्फ नमिता की हत्या कर शव ठिकाने लगाने भरत दिवाकर अपनी स्कार्पियो से बरुआ बांध आया था। साथी रामसेवक के सहयोग से बोरे में लगभग एक क्विंटल से अधिक पत्थर बोरे में भरकर मीनू के कमर व हाथों में बांधकर नाव में रखने के बाद पानी में फेंकने के दौरान नाव पलट गई थी। मंगलवार को पुलिस दिनभर बांध में शवों की खोजबीन करती रही, लेकिन सफलता नहीं मिली थी।


बृहस्पतिवार को प्रयागराज से आई एसडीआरएफ की टीम ने सुबह 11 बजे से बांध में दंपति की तलाश शुरू कर दी। दोपहर बाद जब महिला का शव बाहर निकाला गया तो लोग आश्चर्य में पड़ गए। जिस नाव में महिला के शव को लेकर सपा नेता व सहयोगी के बीच बांध में जाने की बात कही जा रही, उसका अब तक पता नहीं चला है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

दोनों सदन में मजबूत संख्याबल होने पर राम मंदिर निर्माण के लिए बिल लाएंगे: केशव प्रसाद मौर्य

BT Bureau

रायबरेली: सास से मांगा राशन तो पति ने मुंबई से फोन कर पत्नी को दिया ‘तीन तलाक’

BT Bureau

पीलीभीत: तमंचे के बल पर किन्नर से गैंगरेप, हैरान कर देगा यह अप्राकृतिक रेप का मामला

BT Bureau