Breaking Tube
Breaking Government News

योगी सरकार ने बढ़ाया 1.5 लाख कर्मचारियों का नियत यात्रा भत्ता

Yogi adityanath

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को लोकभवन में कैबिनेट की बैठक हुई। कैबिनेट ने प्रदेश के 1.5 लाख कर्मचारियों को नियत भत्ता बढ़ाने सहित कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है। जानकारी के मुताबिक, राज्य वेतन समिति ने अपनी सातवीं रिपोर्ट में स्थायी मासिक भत्ता (नियत यात्रा भत्ता) के संबंध में संस्तुतियां दी थी।


इन प्रस्तावों को मिली मंजूरी


Also Read: गोरखपुर: जनता दरबार में परिजनों साथ आई बच्ची को CM ने दुलारकर जाना प्राथमिक शिक्षा का हाल, पूछा- स्वेटर मिला, किताबें मिलीं, खाने को कुछ मिलता है या नहीं


  • दिनांक 1 नवंबर 2012 से राजकीय कर्मिकों को दिए जा रहे नियत यात्रा भत्ता/ वाहन भत्ते को 100 के स्थान पर 100 को 200, 200 को 300, 300 को 450 व 400 को 600 रुपये कर दिये जाने को मंजूरी।
  • भांग की फुटकर दुकानों के व्यवस्थापन से संबंधित नियमावली को मंजूरी।
  • गोरखपुर में शहीद अशफाक उल्ला खान प्राणि उद्यान की तृतीय पुनरीक्षित लागत 234.36 करोड़ + जीएसटी को मंजूरी। यह 121.34 एकड़ क्षेत्रफल में बनेगा। इससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान के साथ ही वन्यजीवों के संरक्षण को बढ़ावा मिलेगा।
  • प्रयागराज के बहादुरपुर ब्लॉक के कोटवा गांव में बंद पड़ी पीएचसी के स्थान पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाए जाने के लिए पुरानी जर्जर इमारत को गिराने के प्रस्ताव को मंजूरी।
  • एसजीपीजीआई में छात्रों की सुविधा हेतु 200 बेड के छात्रावास को मंजूरी। G+6 ऊंचाई के साथ बनने वाले छात्रावास की लागत 12.15 करोड़+ जीएसटी आएगी।
  • जगद्गुरू रामभद्राचार्य विकलांग विवि अधिनियम में बदलाव। विकलांग की जगह ‘दिव्यांग’ होगा।
  • आईटी इलेक्ट्रॉनिक विभाग की जगह अब दिव्यांगजन विभाग के अधीन होगा, पहले सरकारी मदद नहीं मिल सकती थी, अब सरकारी मदद मिल सकेगी।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

आजमगढ़: बच्चों पर ‘असरकारी’ है ये सरकारी स्कूल, ऐसी होती है पढ़ाई कि अभिवावक करतें हैं शिक्षक की बड़ाई

BT Bureau

केंद्र सरकार बढ़ा सकती हैं SC और HC के जजों की रिटायरमेंट उम्र

BT Bureau

लापरवाही पर योगी सरकार सख्त, काशी में बिजली कटौती को लेकर की बड़ी कार्रवाई

BT Bureau