Breaking Tube
Breaking Business Government News

यूपी में ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट की तैयारियां शुरू, अप्रैल तक तारीखों का ऐलान, जून से शुरू होंगे रोड शो

Global Investors Summit 2020

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इस साल अक्टूबर-नवंबर में प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (Global Investors Summit 2020) की तैयारी शुरू करते हुए इसके लिए 20 फोकस सेक्टर चिन्हित किए हैं। इनमें संबंधित विभागों को समिट में अधिकाधिक निवेश प्राप्त करने के लिए रणनीति तैयार कर उसपर अमल करने के लिए निर्देशित कर दिया है।


प्रदेश सरकार ने फरवरी 2018 की इन्वेस्टर्स समिट के बाद से पिछले दो सालों के बीच निवेश के कई नए सेक्टरों की पहचान की है, साथ ही उनकी नीतियां भी बनाई हैं। मसलन, डिफेंस व एयरोस्पेस, सिविल एविएशन के साथ मेंटेनेंस, रिपेयर व ओवरहॉल (एमआरओ), इलेक्ट्रिक वाहन व बैटरी मैन्युफैक्चरिंग और वेयरहाउसिंग व लॉजिस्टिक्स सेक्टर। इसी तरह डेटा सेंटर व रिटेल पॉलिसी तैयार करने की कार्रवाई चल रही है।


Also Read: योगी सरकार का बड़ा ऐलान, ओलंपिक में गोल्ड जीतने पर यूपी के खिलाड़ियों को देगी 6 करोड़ रूपये


इसके साथ ही सरकार ने पिछली इन्वेस्टर्स समिट के फोकस सेक्टर के साथ इन नए सेक्टरों को शामिल कर अधिकाधिक निवेश की संभावनाओं का आकलन कर तैयारी शुरू करने का निर्देश दिया है। अब विभागों को बताना है कि इन सेक्टरों में कितना-कितना निवेश हो सकता है।


वहीं, शासन ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (Global Investors Summit 2020) की तैयारियों के लिए कैलेंडर भी प्रस्तावित कर दिया है। विभागों को इसी के हिसाब से हर काम की समयबद्ध कार्यवाही करनी है। इसमें अप्रैल तक समिट की तारीखों का ऐलान और जून से रोड शो जैसी गतिविधियां शामिल हैं।


10 लाख करोड़ निवेश का लक्ष्य संभव, करीब 80-90 लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार


शासन के एक अधिकारी के मुताबिक, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग ने पिछले दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों की प्रारंभिक बैठक में 5 से 8 लाख करोड़ रुपए निवेश प्राप्त करने का लक्ष्य प्रस्तावित किया था। लेकिन सीएम योगी ने इस लक्ष्य को और बढ़ाने का निर्देश दिया है।


Also Read: योगी सरकार के लिए उपलब्धियों भरा रहा 2019, इन कामों के लिए किया जाएगा याद


अधिकरी ने बताया कि चूंकि पहली इन्वेस्टर्स समिट में ही 4.28 लाख करोड़ का एमओयू हो चुका है और सीएम योगी 2024 तक प्रदेश को 10 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था के रूप में विकसित करने का लक्ष्य रख चुके हैं। ऐसे में प्रस्तावित समिट के जरिए 10 लाख करोड़ रुपए का निवेश जुटाने का लक्ष्य तय किया जा सकता है।


हालांकि निश्चित रूप से यह लक्ष्य कितना होगा, यह विभागों से सेक्टर वार लक्ष्य आने के बाद सीएम स्तर से तय होना बाकी है। लेकिन 10 लाख करोड़ के निवेश से 80-90 लाख युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा हो सकते हैं और सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था को तेज गति मिल सकती है।


सीएम के नेतृत्व में बनेगी आयोजन समिति


समिट के आयोजन के लिए शासन स्तर पर कई समितियां गठित करने की तैयारी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आयोजन समिति, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त की अध्यक्षता में कार्यकारी समिति व मुख्य सचिव के अधीन अंतर विभागीय समन्वय समिति के गठन का प्रस्ताव है।


ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का कैलेंडर


जानकारी के मुताबिक, मार्च तक समिट के लिए वेबसाइट का विकास, प्रचार व सूचना के लिए सामग्री प्राप्त करना और शासन की समितियों को अंतिम रूप दे दिया जाएगा। वहीं, अप्रैल तक समिट की तिथियों के साथ आयोजन स्थल का ऐलान, मीडिया व पीआर एजेंसी का चयन और प्रचार व सूचना के लिए सामग्री को अंतिम रूप दिया जाएगा।


इसके साथ ही जून में आमंत्रण से संबंधित कार्रवाई और चार देशों में अंतरराष्ट्रीय रोड शो, जुलाई में चार देशों में अंतरराष्ट्रीय रोड शो, अगस्त/सितंबर में देश के विभिन्न स्थलों पर रोड शो और अक्टूबर/नवंबर में यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2020।


इन सेक्टरों पर फोकस करेगी सरकार


  • इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग
  • डिफेंस व एयरोस्पेस
  • रिन्युएबल इनर्जी
  • एमएसएमई व मैन्युफैक्चरिंग (रेलवेज व एंसिलिरीज, इंजीनियरिंग)
  • खाद्य प्रसंस्करण
  • पर्यटन
  • सिविल एविएशन व मेंटेनेंस, रिपेयर व ओवरहॉल (एमआरओ)
  • आईटी व स्टार्ट-अप
  • इलेक्ट्रिक वाहन व बैटरी मैन्युफैक्चरिंग
  • ऊर्जा
  • आवास
  • हेल्थकेयर
  • ट्रांसपोर्ट
  • वेयरहाउसिंग व लॉजिस्टिक
  • हैंडलूम व लॉजिस्टिक
  • हैंडलूम व टेक्सटाइल
  • शिक्षा
  • फार्मास्युटिकल्स
  • डेयरी व पशुधन
  • फिल्म व मीडिया
  • डेटा सेंटर, रिटेल आदि

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

UPPSC परीक्षा स्थगित होने पर छात्रों का फूटा गुस्सा, विरोध में जूता पॉलिश कर दीं गिरफ्तारियां

BT Bureau

परिवार नियोजन के नियमों के खिलाफ चंद्रबाबू नायडू का ऐलान, ‘दो से ज्यादा बच्चा पैदा करने पर मिलेगा इन्सेन्टिव’

Jitendra Nishad

शाह ने प्रयाग कुंभ मेला सकुशल संपन्न होने के लिए पूजा अर्चना की

BT Bureau