Breaking Tube
Business Technology

अगर आप भी करते हैं Chrome इस्तेमाल तो हो जाइए सावधान, मंडरा रहा है हैकर्स का खतरा

टेक्नोलॉजी: आज कल चाहे लैपटॉप हो या फिर फ़ोन, सभी जगह गूगल क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल होता है. अब इसमें एक गड़बड़ी का खुलासा हुआ है जिसका हैकर्स द्वारा गलत इस्तेमाल किया जा सकता है. हालांकि गूगल ने घोषणा की है कि कंपनी ने बड़ी गड़बड़ी को ठीक कर लिया है. पर, आपको अभी भी हैकर्स से बचने के लिए कुछ टिप्स अपनाने की जरूरत है. वरना आप भी हैकर्स का शिकार बन सकते हैं.


हैकर्स चुरा सकते हैं डाटा

जानकारी के मुताबिक, क्रोम ब्राउजर के ओपन-सोर्स JavaScript इंजन में खामी पाई गई है. ऐसे में अब जो यूजर्स बिना अपडेट किए ही क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल करते रहेंगे, उन्हें हैकर्स अपना शिकार बना सकते हैं. सिक्यॉरिटी खामी का फायदा उठाकर हैकर्स यूजर्स के डेटा का इस्तेमाल कर सकते हैं. अगर आपके लैपटॉप या मोबाइल में भी क्रोम ब्राउजर मौजूद है, तो आपको तुरंत इसे अपडेट करने की सलाह दी जा रही है.


Google ने अपने ब्लॉग पर खुलासा किया कि जिस नए बग पता चला है वह पहले से ही इस्तेमाल किया जा रहा था, जिसका मतलब है कि यह एक जीरो-डे (Zero-Day) खामी है. जीरो-डे एक ऐसी सिक्यॉरिटी खामी होती है, जिसका इस्तेमाल हैकर्स उस कंपनी की जानकारी के बिना करते हैं जिसने ऐप या सर्विस बनाई है. इस खामी को डार्क वेब पर लाखों डॉलर में बेचा जाता है.


ऐसे करें अपडेट

ऐसे में जो भी यूजर्स ब्राउजर के पुराने वर्जन का इस्तेमाल कर रहे हैं उन्हें अपडेट करने की जरूरत है. ब्राउजर को अपडेट करने के लिए यूजर्स को सबसे पहले Settings और फिर Help और फिर About Google Chrome में जाना होगा. अगर आप क्रोम ब्राउतर के 91.0.4472.164 या उससे बाद के वर्जन का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आप इस गड़बड़ी से बच सकते हैं.


Also Read: WhatsApp ने 20 लाख से ज्यादा भारतीय यूज़र्स को किया बैन, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती ?


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

RBI के नियमों के कारण बंद हो सकते है देशभर के आधे ATM, नोटबंदी जैसे हो जाएंगे हालात

admin

UP के बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत, आयोग ने खारिज किया दरें बढ़ाने का प्रस्ताव

Jitendra Nishad

उत्पादन के क्षेत्र में भारत ने जापान को पीछे छोड़ा, बना दूसरे नंबर का देश

S N Tiwari