‘आप बिजली तो देते नहीं थे, मुफ्त की लाइट क्या देंगे’, अखिलेश के ऐलान पर CM योगी का पलटवार

आगामी विधानसभा चुनावों के चलते यूपी में राजनैतिक सरगर्मी बढ़ती जा रही है। इसी क्रम में प्रदेश भर में जनसभाओं और बयानों का दौर भी चल रहा है। हाल ही में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ऐलान किया था कि अगर समाजवादी की सरकार बन जाती है तो प्रदेश में 300 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। अब इस फ्री वाले ऐलान पर सियासत गरमा गई है। शनिवार को समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के मुफ्त बिजली के वादे पर पलटवार करते हुए कहा कि ‘जब आप बिजली ही नहीं देते थे तो मुफ्त की बात कहां से देंगे उल्‍टा जनता से जो वसूली करते थे उसके लिए माफी तो मांग लो।’

सीएम योगी का पलटवार

जानकारी के मुताबिक, मुख्‍यमंत्री योगी ने शनिवार को बीजेपी की जन विश्वास यात्रा की श्रृंखला में रामपुर के मिलक तहसील के रठौंडा मैदान में 95 करोड़ रुपये की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के बाद जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ”उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में हमने बिजली पहुंचा दी है। अभी कुछ देर पहले पढ़ रहा था तो समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बबुआ आज कुछ बोल रहे थे और उनके मुंह से निकल रहा था कि सरकार आएगी तो हम मुफ्त बिजली देंगे।”

कटाक्ष करते हुए योगी ने कहा, ”अरे, जब आप बिजली ही नहीं देते थे तो मुफ्त कहां से दे देंगे, उल्‍टा जनता से जो एकतरफा वसूली करते थे, उसके लिए माफी तो मांग लो।”योगी ने कहा, ”आज हम कह सकते हैं कि उप्र में बिना भेदभाव के गरीब की झोपड़ी में भी और राजमहल में रहने वाले व्यक्ति के घर में भी बिजली हर समय जलती हुई दिखाई देती है।”

वहीं दूसरी तरफ सपा के फ्री बिजली देने के वादे पर यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने भी ट्वीट कर जवाब दिया। उन्होंने लिखा कि अपने 5 सालों में बिजली दरों में 60.71% की बढ़ोतरी करने और सिर्फ 5 जिलों को बिजली देने वाली सपा अब फ्री बिजली का झांसा दे रही है। योगी सरकार में पिछले 3 सालों में दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई, बगैर भेदभाव 75 जिलों को समान बिजली मिल रही है।

अखिलेश यादव ने किया था ये ऐलान

बता दें कि नये साल के पहले दिन एसपी अध्यक्ष यादव ने लखनऊ में पार्टी मुख्यालय में कहा कि पार्टी के सत्ता में आने पर लोगों को 300 यूनिट घरेलू बिजली मुफ्त मिलेगी और किसानों का सिंचाई बिल माफ किया जाएगा। इससे पहले समाजवादी पार्टी (SP) ने ट्वीट कर हादसे में मरने वाले साइकल सवारों को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की थी।

Also Reda: कन्नौज में BJP पर बरसे अखिलेश यादव, बोले- चुनाव से पहले सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करती है भाजपा

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )