कोरोना के नए वैरिएंट से दुनियाभर में दहशत, भारत अलर्ट, ब्रिटेन को रोकनी पड़ी छह देशों की उड़ान

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में मिले कोरोना (COVID 19) के नए वेरिएंट (Corona new variant B.1.1.529) से पूरी दुनिया में दहशत है. इसे बहुत खतरनाक बताया जा रहा है. कई और देशों में भी इस वेरिएंट के मरीज मिले हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने शुक्रवार को इस मुद्दे पर एक मीटिंग की. इसमें संगठन के टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन वायरस एवोल्यूशन (TAG-VE) की टीम भी शामिल हुई.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक अधिकारी ने बताया कि अबतक मिली जानकारी के मुताबिक यह स्वरूप सबसे अधिक बदलाव की वजह से उत्पन्न हुआ है. सबसे पहले इसकी पहचान इस हफ्ते दक्षिण अफ्रीका में की गई थी और यह पहले ही बोत्सवाना सहित कई पड़ोसी देशों में फैल चुका है. वायरस का यह स्वरूप पूरी तरह से टीकाकरण करा चुके लोगों में मिला है. इस नए स्वरूप के सामने आने के बाद वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि वायरस के नए स्वरूपों की संख्या बढ़ सकती है जो टीके के प्रति अधिक प्रतिरोधी हो सकते हैं और उनके प्रसार की दर और अधिक हो सकती है. इससे कोविड-19 के गंभीर लक्षण वाले मामलों में वृद्धि हो सकती है.

दुनिया के देशों के लिए चुनौती बना नया वैरिएंट 

  • भारत में अभी तक इस नए वैरिएंट का कोई मामला सामने नहीं आया है.
  • सावधानी के लिए भारत में दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और हांग-कांग से आए व्यक्तियों की कड़ी स्क्रीनिंग करने को कहा गया है.
  • इजरायल में मलावी से लौटे यात्री में नए कोविड वैरिएंट का पता चला है.
  • इज़राइली पीएम ने कहा है है कि हम वर्तमान में आपातकाल की स्थिति के कगार पर हैं.
  • इटली ने कोविड-19 के नए वैरिएंट को लेकर दक्षिणी अफ्रीका से आने वाले यात्रियोंं पर प्रतिबंध लगा दिया है.
  • जर्मनी नए कोविड वैरिएंट को लेकर दक्षिण अफ्रीका पर यात्रा प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है.
  •  ब्रिटेन ने छह अफ्रीकी देशों को यात्रा प्रतिबंध सूची में शामिल किया है. इन देशों में दक्षिण अफ्रीका, नामीबिया, ज़िम्बाब्वे और बोत्सवाना, लेसोथो और इस्वातिनी शामिल है.

एम्स (AIIMS) के सेंटर फॉर कम्यूनिटी मेडिसिन के डॉ. संजय राय ने ने कहा कि यह एक नया वेरिएंट है. हम इसकी संक्रामकता की पूरी स्थिति को नहीं जानते हैं. लेकिन, आशंका है कि वैक्सीन या प्राकृतिक दोनों तरह से बनी इम्यूनिटी को भेदकर संक्रमित कर सकता है. इसे नजरअंदाज किया गया तो यह गंभीर मसला हो सकता है. कोरोना के इस नए वेरिएंट को लेकर देश में भी अलर्ट जारी किया गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने खतरे वाले देशों की यात्रा कर रहे लोगों की ठीक से जांच और स्क्रीनिंग के निर्देश दिए हैं. जिन विदेश की यात्रा को शुरु किया जाना था, उन्हें रोक दिया गया है.

दक्षिण अफ्रीका में मिला कोरोना का नया वेरिएंट B.1.1.529 है. दक्षिण अफ्रीका के साथ ही बोत्सवाना और हॉन्गकॉन्ग में भी इसके मरीज मिले हैं. वैज्ञानिकों ने इसे बेहद घातक बताया है. यह तेजी से म्यूटेंट हुआ है. विशेषज्ञों का कहना है कि शरीर के इम्यून सिस्टम को भेदकर संक्रमित करने की इसमें शक्ति है. वैज्ञानिक वायरस के इस रूप को बेहद संक्रामक बता रहे हैं.

Also Read: योगी राज में एक और रोड का बदला नाम, आगरा की ‘मुगल रोड’ हुई अब ‘महाराज अग्रसेन’ मार्ग

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )