Breaking Tube
Corona Government

कोरोना कैरियर्स पर योगी सख्त, जहां कहीं भी छिपे हों तबलीगी जमाती, ढूंढ़कर निकालें

उत्तर प्रदेश में करोना वायरस (Corona Virus) संक्रमितों की संख्या 600 से ऊपर पहुंच चुकी है. वहीं दूसरी तरफ कोरोना कैरियर्स बनकर तबलीगी जमाती (Tabligi Jamaat) अभी भी सहयोग नहीं कर रहे हैं. इसे क्वारंटाइन सेंटर में पहुंचाने के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है. वहीं जमातियों की इस लापरवाही पर मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ सख्त नजर आ रहे हैं. मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान सीएम ने तबलीगी जमातियों ढंढ़कर निकालने के आदेश दिए हैं, इसके अलावा इन्हें छिपाने वालों पर भी कड़ी कार्ऱवाई के निर्देष दिए हैं.


कोरोना योद्धाओं को संक्रमण से बचाने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस से लड़ने में लगे कोरोना योद्धाओं को संक्रमण से बचाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने का भी निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि कोरोना के हॉटस्पॉट क्षेत्रों में मेडिकल टीम को अलर्ट करते हुए मैक्रो प्लानिंग की जाए. हॉटस्पॉट वाले क्षेत्रों में डोर टु डोर चेकिंग की जाए. उन्होंने कोरोना की जंग के लिए एनएसएस, एनसीसी, सिविल डिफेंस, स्वैच्छिक संगठनों के वॉलेंटियर्स को प्रशिक्षण देने के निर्देश दिए. साथ ही उन्होंने कम्युनिटी किचन व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के निर्देश भी दिए.


अस्पतालों में आपातकालीन सेवाएं शुरू करने के आदेश

मुख्यमंत्री ने कहा कि आकस्मिकता की स्थिति में प्रदेशवासियों को समुचित चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए चिकित्सा की आपातकालीन सेवाओं को शुरू करना जरूरी है. सभी राजकीय अस्पतालों और आयुष्मान भारत योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पतालों में आपातकालीन सेवाएं जल्द शुरू करने को कहा. कोरोना का संक्रमण रोकने को उन्होंने पूरी सुरक्षा व सतर्कता बरतने के निर्देश दिए. अस्पतालों को पीपीई किट व एन-95 मास्क उपलब्ध कराने को कहा. आकस्मिकता की स्थिति में अस्पतालों में आने वाले किडनी, लीवर, हार्ट आदि की गंभीर बीमारियों के रोगियों में बाद में कोरोना संक्रमण का पता चलता है, जिससे पूरी मेडिकल टीम के संक्रमित होने की आशंका बन जाती है.


कोरोना से बचाव को जिला स्तर पर ट्रेंनिग

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना से बचाव व उपचार के लिए स्वास्थ्य तथा चिकित्सा शिक्षा विभागों द्वारा मास्टर ट्रेनरों के जरिये जिला स्तर पर अलग-अलग प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाने को कहा. प्रतिदिन चिकित्सकों, नसिर्ंग स्टाफ, पैरामेडिकल स्टाफ, एनसीसी व एनएसएस आदि से जुड़े स्वयं सेवकों को प्रशिक्षण दिलाने के निर्देश दिए. मजदूरों के प्रदर्शन और किराए में देर पर मकान मालिक द्वारा किराएदार को घर से निकालने की घटनाओं का संज्ञान लेकर कार्रवाई के निर्देश दिए.


किसानों को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री ने कहा कि गेहूं की सरकारी खरीद 15 अप्रैल, 2020 से प्रारम्भ हो रही है. इसके दृष्टिगत, किसानों की सुविधा के लिए सभी जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं. यह सुनिश्चित किया जाए कि किसानों को उनकी उपज का न्यूनतम समर्थन मूल्य हर हाल में मिले. जिलाधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि गेहूं क्रय केन्द्रों पर नामित अधिकारी अनिवार्य रूप से उपस्थित रहें. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हर हाल में सुनिश्चित किया जाए. उन्होंने कहा कि इस मौसम में भूसा बड़ी मात्रा में उपलब्ध रहता है, इसलिए इसे आसानी से एकत्र किया जा सकता है. निराश्रित गोवंश के लिए गोवंश आश्रय स्थलों पर मनरेगा मजदूरों के माध्यम से भूसा बैंक स्थापित कर लिया जाए. मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि सभी जनपदों में अवैध शराब और जहरीली शराब के खिलाफ विशेष अभियान संचालित किया जाए. उन्होंने कहा कि शराब तस्करी तथा अवैध और जहरीली शराब की बिक्री में लगे लोगों के खिलाफ एनएसए और गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाए.


Also Read: गैर राज्यों में फंसे यूपी वालों की मदद के लिए CM योगी ने दिए विशेष निर्देश, लॉकडाउन-2 को सख्ती से लागू करने की तैयारी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

गुरलीन ने झांसी में उगाई स्ट्रॉबेरी, PM मोदी ने की तारीफ, बोलीं- यह योगीजी के प्रयासों का नतीजा

BT Bureau

योगी के ‘मिशन रोजगार’ ने पकड़ी रफ्तार, 25 लाख को मिला रोजगार, 5 लाख सरकारी नौकरियां जल्द

BT Bureau

पूर्व वित्त मंत्री ने मोदी सरकार पर लगाया अर्थव्यवस्था को खराब करने का आरोप

admin