Breaking Tube
Crime UP News

ISI के सीधे संपर्क में था अनस, UP ATS फोन के जरिए पता लगा रही कहीं पाकिस्तान को भेजी सूचनाएं संवेदनशील तो नहीं?

UP ATS Anas

यूपी एटीएस पूर्व सैनिक सौरभ शर्मा और उसके मददगार अनस गितैली को गिरफ्तार करने के बाद पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को भेजी गई सूचनाओं का पता लगाने की कोशिशों में जुटी है। इसके लिए दोनों के मोबाइल फोन की फॉरेंसिक जांच भी कराई जा रही है। सेना में नौकरी के दौरान सौरभ की तैनाती वाले स्थानों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है।


सूत्रों के मुताबिक, अनस गितैली के आईएसआई के सीधे संपर्क में होने की संभावना है। आईएसआई के निर्देश पर वह सौरभ को पैसे भेजता था। अनस के बारे में गुजरात एटीएस और एनआईए से भी जानकारी मांगी गई है। अनस के मोबाइल फोन से काफी अहम सूचनाएं मिलने की संभावना है।


आईएसआई के लिए काम करने वाला उसका बड़ा भाई इमरान गितैली पहले से ही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की गिरफ्त में है। सौरभ व अनस की कस्टडी रिमांड मिलने के बाद दोनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करने की भी योजना है।


बता दें कि हापुड़ निवासी सौरभ को एटीएस ने शुक्रवार को पूछताछ के दौरान लखनऊ में ही गिरफ्तार कर लिया गया था, जबकि अनस को गोधरा (गुजरात) से गिरफ्तार करके लखनऊ लाया जा रहा है। सौरभ ने एटीएस के सामने स्वीकार किया है कि वह पैसों के लालच में सेना की गोपनीय सूचनाएं समय-समय पर व्हाट्सअप के माध्यम से पाकिस्तान की एक महिला खुफिया अधिकारी को भेजता था।


एटीएस अब यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि वह सेना में कौन-कौन सी जानकारी पाकिस्तान को दे चुका है। क्योंकि यह जानकारी देश की सुरक्षा के लिहाज से अहम है। ऐसी संभवना है कि सौरभ की तैनाती पठानकोट में भी रही है। ऐसे में इस आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता कि उसने कुछ बेहद संवेदनशील सूचनाएं भी पाकिस्तान को दी हों। एटीएस सौरभ के बैंक खातों और नकद प्राप्त पैसों के बारे में भी जानकारी जुटा रही है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

छोटे बेटे से विकास दुबे की मां ने की अपील- सरेंडर कर दो वरना पुलिस तुम्हे भी मार देगी

Shruti Gaur

जुर्म की दुनिया का मोस्ट वांटेड गैंगस्टर ‘मामा’, कभी था दिल्ली में विधायक

BT Bureau

मुरादाबाद: हिन्दू युवती को फंसाने के लिए ‘फैजान’ बन गया ‘ईशान’, शादी का झांसा देकर दुष्कर्म और जबरन गर्भपात, धर्म परिवर्तन का भी बनाया दबाव

BT Bureau