Breaking Tube
Crime

उन्नाव रेप केस: दोषी कुलदीप सेंगर की विधानसभा सदस्यता समाप्त, बांगरमऊ सीट पर उपचुनाव के लिए जारी होगी अधिसूचना

Kuldeep Singh Sengar

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) की विधानसभा सदस्यता खत्म कर दी गई है। अब वह विधायक नहीं है। यूपी विधानसभा सचिवालय ने उनकी सदस्यता समाप्त कर दी है। इस संबंध में विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे की ओर से जारी अधिसूचना में सेंगर की सदस्यता उस दिन ही समाप्त की गई है, जिस दिन उसे सजा सुनाई गई थी।


अधिसूचना के मुताबिक, 20 दिसंबर 2019 से उन्नाव जिले की बांगरमऊ विधानसभा सीट को रिक्त घोषित कर किया गया है। जानकारी के अनुसार, भाजपा ने कुलदीप सेंगर को 1 अगस्त 2019 को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। दिल्ली की एक अदालत ने 20 दिसंबर 2019 को उन्नाव दुष्कर्म केस में उन्हें दोषी करार दिया है और उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।


Also Read: CAA प्रोटेस्ट: विरोध की आड़ में हेड कांस्टेबल की गोली मारकर हत्या, DCP समेत कई घायल


कुलदीप सिंह सेंगर (53) को दिल्ली की तीस हजारी अदालत ने 20 दिसंबर 2019 को आजीवन उम्रकैद की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने कहा था कि उसे मौत तक जेल में रखा जाए। भाजपा से निकाले गए सेंगर पर 25 लाख का जुर्माना भी लगाया गया था। कोर्ट द्वारा फैसला सुनाते वक्त कुलदीप सेंगर हाथ जोडे़ खड़ा था। फैसला आते ही सेंगर कोर्टरूम में फफक कर रो पड़ा था। इस दौरान कोर्ट में सेंगर की बहन और बेटी भी मौजूद थी।


गौरतलब है कि कुलदीप सेंगर को धारा 120 बी (आपराधिक साजिश), 363 (अपहरण), 366 (शादी के लिए मजबूर करने के लिए एक महिला का अपहरण या उत्पीड़न), 376 (बलात्कार और अन्य संबंधित धाराओं) और पॉक्सो के तहत दोषी ठहराया गया था। सूत्रों के मुताबिक, बांगरमऊ विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए जल्द ही अधिसूचना जारी की जाएगी।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

AMU में एमबीए एंट्रेंस पेपर आउट कराने के मामले में BSP नेता फिरोज आलम गिरफ्तार

BT Bureau

वाराणसी: अब सिपाही से मारपीट कर फाड़ी वर्दी, थाने में भागकर बचाई जान

Jitendra Nishad

PM मोदी से सम्मानित छात्रा से गैंगरेप, मां ने पूछा- कैसे पढ़ाएं और बचाएं बेटी

BT Bureau