Breaking Tube
Crime UP News

बलरामपुर: मरने से पहले पत्रकार बोला- मैं खबर लिख रहा था, तभी गांव के लोगों ने प्रधान के साथ मिलकर लगा दी आग

Balrampur journalist rakesh singh nirbhik

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर (Balrampur) जनपद में शनिवार को एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां संदिग्ध परिस्थितियों में घर में लगी आग से झुलसकर पत्रकार समेत 2 लोगों की मौत हो गई। यह आग इतनी भीषण थी कि घर का पूरा सामान राख में तब्दील हो गया। वहीं, घर की एक दीवार तक गिर गई। मामले में पुलिस के होश तब उड़ गए, जब मरने से पहले पत्रकार राकेश सिंह निर्भीक (Journalist Rakesh Singh Nirbhik) ने गांव के प्रधान पर सनसनीखेज आरोप लगा दिया।


पत्रकार राकेश सिंह निर्भीक ने मरने से पहले कहा कि मैं खबर लिख रहा था…तभी गांव के लोगों ने प्रधान के साथ मिलकर आग लगा दी। मामले में पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने बताया कि 2 संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है, दोनों से पूछताछ की जा रही है।


Also Read: बागपत: शादी से लौट रहे हलवाई को बदमाशों ने गोलियों से भूना, इलाके में दहशत


जानकारी के अनुसार, मामला कोतवाली देहात क्षेत्र के कलवारी गांव का है। यहां के निवासी 45 वर्षीय राकेश सिंह निर्भीक पेशे से पत्रकार थे। शनिवार को उनके आवास में संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि आवास की एक दीवार गिर गई, जबकि अंदर रखा सारा सामान जल गया है।


वहीं, गंभीर रूप से गंभीर रूप से झुलसे पत्रकार राकेश सिंह निर्भीक को आनन-फानन में जिला मेमोरियल चिकित्सालय ले जाया गया। यहां से उन्हें लखनऊ मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान देर रात करीब 11 बजे उनकी मौत हो गई।


Also Read: UP में रंगदारी गुनाह, व्यापारी से 50 लाख मांगने वाला बदमाश 50 घंटे में ढेर


इस मामले में वर्किंग जर्नलिस्ट ऑफ इंडिया, उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष पवन श्रीवास्तव ने पत्रकारों पर हो रहे अत्याचारों पर अंकुश लगाने की गुहार लगाई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजे शिकायती पत्र में प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच शुरू करने के साथ ही बलरामपुर डीएण और पुलिस अधीक्षक को तत्काल प्रभाव से हटाने की की मांग की गई है।


Also Read: दिल्ली से 2 बहनों को किया अगवा, फिर मेरठ लाकर अनस और अजहर ने किया बलात्कार


यह भी कहा गया है कि तत्काल प्रभाव से कार्यवाही न होने पर वर्किंग जर्नलिस्ट ऑफ इंडिया इकाई भारतीय मज़दूर संघ पत्रकारों के सुरक्षा को लेकर सड़क पर उतरने पर मजबूर होगा।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

शामली: खालिस्तानी आतंकवादियों को हथियार सप्लाई कराने वाला शख्स साथी समेत गिरफ्तार

BT Bureau

प्रतापगढ़ में कोरोना से जान गंवाने वाले इंस्पेक्टर के परिजनों के लिए आगे आई कानपुर पुलिस, जुटाए 3 लाख

BT Bureau

यूपी: रिटायर्ड कैप्टन के साथ मिलकर ठगी करता था फर्जी कर्नल, यूट्यूब से सीखी सेना की गतिविधियां

S N Tiwari