Breaking Tube
Crime UP News

संजीत अपहरण कांड की हो सकती है CBI जांच, रडार पर होंगे लापरवाह पुलिसकर्मी

sp south aparna gupta

कानपुर में हुए संजीत किडनैपिंग कांड ने पुलिस की जमकर किरकिरी कराई थी। इस मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश की गई है। सूत्रों की मानें तो जल्द ही सीबीआई जांच की इजाज़त मिलने के बाद कई पुलिसकर्मियों पर तलवार लटक सकती है। इस हत्याकांड में जिसकी-जिसकी भूमिका संदिग्ध पाई जाएगी, उसपर कार्रवाई निश्चित है।


सीबीआई के लिए होगी बड़ी चुनौती

जानकारी के मुताबिक, संजीत किडनैपिंग कांड में आरोपितों को पकड़ने के बाद इस मामले में पुलिस ने सिर्फ घटनाक्रम की कहानी पेश की मगर उसे साबित करने के लिए उनके पास कोई ठोस सबूत नहीं था। यही कारण है कि शासन की तरफ से सीबीआई जांच की संस्तुति कर दी गई है। संजीत हत्याकांड की जांच सीबीआई के लिए भी बड़ी चुनौती साबित होने वाली है।


Also read: यूपी: सिपाहियों के कंधे पर आई बड़ी जिम्मेदारी, होम आइसोलेट संक्रमित मरीजों की करेंगे निगरानी


बता दें कि संजीत की लाश को तलाशने के लिए पुलिस ने एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया, इसके बाद भी उसे सफलता नहीं मिली। इस हत्याकांड में पकड़े गए आरोपियों ने बताया था कि संजीत की लाश पांडू नदी फेंकी थी। वहीं संजीत का ड्यूटी बैग, पर्स, गला घोटने वाली रस्सी, फिरौती बैग और फिरौती बैग में रखा गया मोबाइल रफाका नाला में फेंका गया था। सीबीआई अब इस मिस्ट्री को कैसे सुलझाती है, ये आने वाला वक्त बताएगा।


बहन ने उठाई थी सीबीआई जांच की मांग

गौरतलब है कि संजीत की बहन रुचि ने उत्तर प्रदेश पुलिस पर से भरोसा न करने की बात कहते हुए अब सीबीआई की मांग उठाई थी। रुचि का कहना है कि अगर वह मीडिया के पास गई होती तो मेरा भाई जिंदा होता। संजीत हत्याकांड में शासन ने एसपी अपर्णा गुप्ता समेत सीओ व जनता नगर चौकी इंचार्ज राजेश कुमार को सस्पेंड किया था। साथ ही इसके पहले बर्रा एसएचओ रणजीत राय के खिलाफ भी ससेपेंशन की कार्रवाई की गई थी।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

Covid-19 : मस्जिद में जांच करने गई पुलिस टीम पर हमला, पत्थरबाजी में सिपाही समेत कई घायल

Jitendra Nishad

प.बंगाल के सियालदह से संदिग्ध आतंकी मनिरुल ‘इस्लाम’ गिरफ्तार, इस संगठन से है संबंध

BT Bureau

शामली मॉब लिंचिंग: मुख्य आरोपी मोहम्मद आमिर गिरफ्तार, राजेन्द्र उर्फ़ तरशपाल की 6 लोगों ने पीट-पीटकर की थी हत्या

BT Bureau