Breaking Tube
Crime

फतेहपुर: लॉकडाउन के बावजूद 65 बच्चों को मदरसे में दी जा रही थी दीनी तालीम, संचालक समेत 2 मौलवी गिरफ्तार

कोरोना वायरस (Corona Virus) का प्रकोप देशभर में में तेजी से बढ़ रहा है, जिसके चलते केंद्र सरकार को पूरे देश में लॉकडाउन लगाना पड़ा. वहीं इसी बीच कुछ ऐसे गैरजिम्मेदार, समाज व मानवता के दुश्मन हैं कि जो अपनी जान तो खतरे में डाल ही रहे औरों की जिंदगी से भी खिलवाड़ कर रहे हैं. मामला उत्तर प्रदेश के फतेहपुर (Fatehpur) जिले का है जहां एक तरफ सभी स्कूल कॉलेज बंद हैं तो वहीं दूसरी ओर लॉकडाउन के बाद भी मदरसा खोल कईयों की जान खतरे में डालकर दीनी तालीम दी जा रही थी. पुलिस ने मदसा संचालक और दो मौलवियों को गिरफ्तार कर लिया है.


जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला बिंदकी कोतवाली क्षेत्र के बजरिया मौहल्ले का बताया जा रहा है. जहां एक ही कमरे में करीब 65 बच्चों को पास-पास बिठाकर दीनी तालीम दी जा रही थी. बुधवार को अधिकारियों को इस संंबंध में जानकारी मिली तो वे बिना कोई देर देर किए मदरसे पहुंच गए. प्रशासनिक अधिकारी मदरसे का दृश्य देखकर हैरत में पड़ गए, वहां एक ही कमरे में करीब 65 बच्चों को बिठाकर तालीम दी जा रही थी.


पुलिस ने मदरसा संचालक मोहम्मद सरफराज, मुस्तकीन व खुशबुद्दीन को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया. इन तीनों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है. वहीं इस मामले पर इस मामले में जिले के अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार का कहना है कि मासूम बच्चों के साथ खिलवाड़ करने वाले और सरकारी आदेशों की अवहेलना करने वाले तीनों शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली गई है. इनके खिलाफ महामारी एक्ट के तहत सख्त कार्यवाही की जाएगी.


Also Read: यूपी: डोर-टू-डोर सामान उपलब्ध कराने में जुटी योगी सरकार, किया 12000 गाड़ियों का इंतेजाम


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

सवर्ण जाति के लोगों ने किया दलित पुलिस कांस्टेबल की बारात पर धारदार हथियारों से हमला, जातिसूचक शब्दों के साथ दी गालियां

Jitendra Nishad

UP: इटली से लौटे दंपति को कोरोना वायरस, पत्नी के परिजनों ने नहीं दी संक्रमण की जानकारी, प्रशासन ने दर्ज की FIR

BT Bureau

मेरठ: मंदिर परिसर में मांस फेंककर माहौल खराब करने की कोशिश, आक्रोशित भीड़ ने पुलिस को घेरा

BT Bureau