Breaking Tube
Crime UP News

कानपुर कांड का सबसे बड़ा खुलासा, अब ये शख्स लगा पुलिस के हाथ

कानपुर के बिकरू गांव में दो जुलाई को हुए शूटआउट मामले में पुलिस और SIT बड़ी तेजी से जांच कर रही है। इस मामले में अब पुलिस के हाथ बड़ा सुराख लगा है। दरअसल, जिन गुर्गों के पास लाइसेंसी असलहे थे, उनमें दहशतगर्द विकास दुबे का ही पैसा लगा था। अधिकतर असलहे एक गन हाउस से खरीदे गए थे। जिसके चलते अब गन हाउस वाले को रडार पर लिया गया है।


शुरू की जाएगी पूछताछ

जानकारी के मुताबिक, कानपुर कांड में इस्तेमाल किए गए कारतूसों का जब पता लगाया गया तो लाइसेंस धारकों से पूछताछ की गई। जिसने वो कारतूसों का ब्यौरा नहीं दे सके। इसक मुख्य कारण यही था कि असलहा, कारतूस का इस्तेमाल विकास व उसके खास गुर्गे करते थे। किसका असलहा किसके पास है और उससे कितनी गोलियां दागी जा रही हैं, कोई जानकारी नहीं रहती थी। पुलिस की जांच में एक गन हाउस मालिक भी रडार पर आया है।


Also read: यूपी: पुलिस लाइन में एक साथ कई पुलिसकर्मी संक्रमित, मचा हड़कंप


विकास के खास के पास थे असलहे

उसके साथ ही एक ही गन हाउस से इतने अधिक असलहों की खरीदारी होती रही और गन हाउस का मालिक चुप रहा। ये बात भी संशय उत्पन्न कर रही है। इस वजह से उसकी विकास के साथ मिलीभगत की आशंका है। बता दें कि बिकरू गांव के 26 लोगों के पास 28 शस्त्र लाइसेंस मिले हैं। इसके अलावा आसपास गांव के दर्जनों लोगों के पास भी शस्त्र लाइसेंस हैं। इसमें से अधिकतर लोग विकास के खास थे।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मेरठ: घूसखोर ASP को एंटी करप्शन कोर्ट ने भेजा जेल, 13 साल से दे रहा था पुलिस को चकमा

Jitendra Nishad

कानपुर एनकाउंटर पर समाजवादी पार्टी बोली- रोगी सरकार के जंगलराज में हत्या प्रदेश बना UP

Jitendra Nishad

बरेली: नशा देकर कराया खतना, बंधक बनाकर नमाज पढ़ाई, मांस खिलाकर बोले- ‘अबसे तुम मुसलमान हो’

BT Bureau