Breaking Tube
Crime

झारखंड: लिंचिंग नहीं दिल का दौरा पड़ने से हुई थी तबरेज अंसारी की मौत, पुलिस ने आरोपियों के ऊपर से हटाई मर्डर की धारा

झारखंड (Jharkhand) के तबरेज अंसारी (Tabrej Ansari) कथिति मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा सामने आया है. रिपोर्ट के मुताबिक यह कोई सुनियोजित मर्डर नहीं था. अंसारी की मौत तनाव और दिल का दौरा पड़ने से हुई थी. पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 के तहत 11 आरोपियों पर दर्ज मामले को खारिज कर दिया है. पुलिस ने इस मामले में पिछले महीने ही धारा 304 के तहत चार्जशीट दाखिल की थी. पुलिस ने इससे पहले अंसारी की पत्नी की शिकायत पर दर्ज एफआईआर में हत्या का आरोप लगाया था.


सरायकेला-खरसावां के एसपी कार्तिक एस ने बताया कि हमने इस मामले में आईपीसी की धारा 304 के तहत दो वजह से चार्जशीट दाखिल की थी. पहला तो अंसारी की मौत घटनास्थल पर नहीं हुई थी… और ग्रामीणों का अंसारी को मारने का कोई इरादा नहीं था. इसके साथ ही मेडिकल रिपोर्ट में हत्या के आरोपों की पुष्टि नहीं हुई थी. लेकिन अब फाइनल पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि अंसारी की मौत कार्डियक अरेस्ट से हुई और इसके साथ ही सिर पर लगी चोट उतनी गहरी नहीं थी. इसलिए मौत की वजह कार्डियक अरेस्ट और सिर पर लगी चोट है.


यह था मामला

बता दें 18 जून को धातकीडीह गांव में भीड़ ने बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ ने अंसारी को एक पोल से बांध दिया. उस पर चोरी का आरोप लगाया और उसके साथ मारपीट की. उसे कथित तौर पर जय श्री राम और जय हनुमान बोलने के लिए मजबूर किया. उस पर हुए हमले के बाद, अंसारी को पुलिस ने चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया और न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. चार दिन बाद, उसे एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने मारपीट में घायल होने के कारण दम तोड़ दिया.


Also Read: सीतापुर: गलत रास्ते से निकल रहे मुहर्रम के जुलूस को रोका तो ताजियेदारों ने पुलिसकर्मियों पर किया पथराव, 34 गिरफ्तार


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

ISIS मॉड्यूल : ट्रेंड पाकिस्तानी नागरिक ‘अबु हुफैजा’ भारतीय युवाओं को ऑनलाइन बना रहा था शिकार

Jitendra Nishad

बरेली: ससुर से हलाला के बाद महिला ने दिया बच्चे को जन्म, शौहर औलाद रखने को तैयार नहीं

BT Bureau

यूपी: पुलिस अधीक्षक से पीड़ित महिला बोली- आपके गनर ने मेरी बेटी से किया बलात्कार, फुसलाकर ATM से निकाले 5 लाख रुपए

Jitendra Nishad