Breaking Tube
Crime

बिकरू कांड: SIT की रडार में 2200 पुलिसकर्मी, सिपाही से लेकर इंस्पेक्टर तक की मांगी पूरी जानकारी

Kanpur encounter

कानपुर देहात के बिकरू कांड (Kanpur encounter) की जांच के लिए गठित एसआईटी को शिवली थाने में 1995 से अब तक तैनात रहे पुलिस कर्मियों का ब्योरा सौंपा गया है। इस लिस्ट में 2200 पुलिसकर्मियों की पूरी जानकारी दी गई है। इसमें सिपाही से लेकर इंस्पेक्टर तक के पुलिसकर्मी शामिल हैं। एसआईटी ने ही यह ब्योरा पुलिस से मांगा था।


बिकरू कांड में चौबेपुर एसओ समेत कई पुलिस कर्मियों की भूमिका संदिग्ध पाई गई है। चौबेपुर एसओ विनय तिवारी और हल्का इंचार्ज केके शर्मा विकास से सांठगांठ के आरोप में जेल में बंद हैं। जानकारी के मुताबिक, बिकरू गांव 2004 में चौबेपुर थाने में जोड़ा गया था। इसके पहले वह शिवली कोतवाली से जुड़ा था।


Also Read: बकरे को लेकर दारोगा और सिपाहियों से भिड़ा हेड कांस्टेबल, लगाया 15 हजार छीनने का आरोप


साल 2001 में कोतवाली के अंदर राज्यमंत्री संतोष शुक्ला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसमें विकास दुबे मुख्य आरोपी था। लेकिन बाद में वह कोर्ट से बरी हो गया था। शिवली से बिकरू की दूरी अधिक होने पर उसे चौबेपुर थाने में जोड़ दिया गया था। बिकरू कांड की जांच कर रही एसआईटी ने शिवली कोतवाली में 1995 से लेकर अब तक तैनात रहे पुलिस कर्मियों की लिस्ट मांगी थी।


एसपी अनुराग वत्स ने बताया कि 2200 पुलिस कर्मियों के नाम, तैनाती का समय, स्थानांतरण के बाद दोबारा तैनात होने का विवरण भी दर्ज किया गया है। बता दें कि बिकरू कांड के मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे और उसके पांच साथियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था।


Also read: जालौन: ड्यूटी से लौट कर सिपाही ने थाना परिसर में की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस


इस मामले में पुलिस ने अभी तक 12 से अधिक लोगों को जेल भेज दिया है। मामले की जांच के लिए एसआईटी और न्यायिक आयोग का गठन किया गया था। उधर, सुप्रीम कोर्ट ने इस पूरे मामले की जांच के लिए पफिर से समिति गठित करने के आदेश दिए हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: शादी का झांसा देकर SDM ने BTC छात्रा से बनाये शारीरिक संबंध और सेक्स वीडियो, मचा हड़कंप

BT Bureau

एंटी CAA प्रोटेस्ट: दंगा फैलाने वाले 15 उपद्रवियों पर लगा गैंगस्टर एक्ट, फरार आरोपियों की तलाश तेज

BT Bureau

विकास दुबे की गिरफ्तारी से संतुष्ट नहीं शहीद पुलिसकर्मियों के परिजन, योगी सरकार से कर रहे एनकाउंटर की मांग

BT Bureau