Breaking Tube
Crime

लखनऊ: 14 वर्षीय किशोरी को अगवा कर किया गैंगरेप, मुख्य आरोपी जिबराइल सहित 3 गिरफ्तार

lucknow

राजधानी लखनऊ (lucknow) के जानकीपुरम के सेक्टर-जे में शुक्रवार देर रात पड़ोसी युवक ने 14 वर्षीय किशोरी का अपहरण कर लिया। किशोरी को घर में न पाकर परिवारीजनों ने तलाश शुरू की तो वह बेहोशी की हालत में घर से कुछ दूर पड़ी मिली। पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी की पुलिस तलाश कर रही है।


इंस्पेक्टर जानकीपुरम ने बताया कि मूलत: सीतापुर निवासी 14 वर्षीय किशोरी सेक्टर-जे इलाके में पिता व भाई के साथ किराये के मकान में रहती है। पीड़िता के भाई के मुताबिक शुक्रवार को वह पिता के साथ शादी समारोह में काम करने गया था और बहन घर में अकेली थी। रात करीब एक बजे वह शौच के लिए घर से बाहर निकली।


इसी बीच पड़ोस में रहने वाले जिबराइल ने बहन का मुंह दबाकर उसे अगवा कर लिया। कुछ देर बाद वह पिता के साथ घर लौटा तो बहन को घर में न पाकर उसकी तलाश शुरू की। भाई का आरोप है कि रात 3 बजे आरोपी बहन को बेहोशी की हालत में घर से कुछ दूरी पर फेंककार से फरार हो गए। पीड़ित परिवार ने आरोप लगाया कि जिबराइल के भागने में उसके पिता कयूम, भाई मोबिन और रिश्तेदार सुफियान ने उसका सहयोग किया।


Also Read : यूपी: केंद्र से लौटे इस IPS को पुलिस विभाग में मिला बड़ा पद, दो अन्य सीनियर अफसरों का भी हुआ ट्रांसफर


भाई ने बहन से गैंगरेप किए जाने की आशंका जताते हुए जिबराइल समेत चारों लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। गैंगरेप की सूचना पर ज्वाइंट कमिश्नर नीलाब्जा चौधरी, एडीसीपी राजेश कुमार श्रीवास्तव, एसीपी अलीगंज अवनीश्वर चन्द्र श्रीवास्तव समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों की देखरेख में पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया।


एडीसीपी राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि मामले की गम्भीरता को देखते हुए जानकीपुरम इंस्पेक्टर मुहम्मद अशरफ व विकासनगर थाने के इंस्पेक्टर क्राइम धनंजय पाण्डेय के नेतृत्व में जांच के लिए तीन टीमें गठित की गईं।


Also Read : गाजियाबाद : आत्महत्या नहीं बल्कि नाबालिग बेटी ने ही बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर किया महिला कांस्टेबल का कत्ल, हैरान कर देगा ये मामला


पुलिस टीम ने सुबह 5 बजे तक जिबराइल, उसके पिता कयूम व रिश्तेदार सुफियान को गिरफ्तार कर लिया, जबकि मोबिन की तलाश की जा रही है। इंस्पेक्टर मुहम्मद अशरफ ने बताया कि महिला डॉक्टरों ने पीड़िता का मेडिकल परीक्षण किया। इसमें रेप की पुष्टि नहीं हुई है। इसके अलावा पीड़िता का कलमबंद बयान दर्ज किया गया। उसने अपने बयान में भी रेप की बात से इनकार किया है।


अब तक की पड़ताल में सामने आया कि किशोरी व आरोपी पूर्व परिचित हैं। लिहाजा जिबराइल, कयूम व सुफियान को अपहरण व धमकाने की धाराओं में जेल भेजा गया है। एसीपी ने बताया कि जिबराइल व उसका पिता कयूम गोश्त विक्रेता हैं। जबकि, बाराबंकी निवासी सुफियान टिम्बर की दुकान में मजदूरी करता है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

रामपुर: गौवंश की कुर्बानी के बाद इलाके में तनाव, मौके पर पहुंचीं पुलिस पर पथराव

BT Bureau

दिल्ली की मोस्ट वांटेड ‘लेडी डॉन’ को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानिए कितनी की है हत्याएं

BT Bureau

आगरा: थाने में घुसकर खनन माफिया ने वनकर्मी को पीटा, तमाशा देखते रहे पुलिसवाले

S N Tiwari