Breaking Tube
Crime

रेवाड़ी रेप कांड : पीड़िता की मां ने कहा- सरकार मेरी बेटी की आबरू की कीमत लगा रही

mother of CBSE topper victim

हरियाणा के रेवाड़ी में सीबीएसई टॉपर छात्रा से गैंगरेप मामले में पीड़िता की मां ने सरकारी रवैये की आलोचना करते हुए इंसाफ की मांग है। पीड़िता की मां ने 2 लाख के मुआवजे का चेक वापस करते हुए कहा है कि उन्हें चेक नहीं, न्याय चाहिए। सीजेएम विवेक यादव ने शनिवार को पीड़िता के परिजनों को यह चेक दिया था जिसे छात्रा की मां ने वापस कर दिया है।

 

मां ने कहा- बेटी को बूचड़खाने में लाकर पटक दिया गया

पीड़िता की मां ने बताया, ‘शनिवार को कुछ अधिकारी मुझे मुआवजे का चेक देने आए थे। मैं आज उसे वापस कर रही हूं, क्योंकि हमें न्याय चाहिए, पैसे नहीं। उन्होंने तीखे शब्दों में कहा, ‘सरकार मेरी बेटी की आबरू की कीमत लगा रही है। मेरी बेटी को बूचड़खाने में लाकर पटक दिया।’ उन्होंने कहा कि उनकी बेटी को उचित इलाज तक नहीं मिल रहा और डिप्रेशन में जाने की बात कहकर डॉक्टर बेटी से मिलने भी नहीं दे रहे हैं।

 

Also Read : PM मोदी से सम्मानित छात्रा से गैंगरेप, मां ने पूछा- कैसे पढ़ाएं और बचाएं बेटी

 

आरोपी के साथी दे रहे धमकी

पीड़िता के परिजनों का कहना है कि पुलिस आरोपियों के साथियों को गिरफ्तार नहीं कर रही है। उनका कहना है कि आरोपियों के साथी घर आकर उन्हें धमका रहे हैं। इस मामले में हरियाणा के डीजीपी बीएस संधु ने बताया था कि मुख्य आरोपी सेना का जवान है और उसकी पोस्टिंग राजस्थान में है। उन्होंने बताया कि इस मामले में सेना की दक्षिम पश्चिम कमांड के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मेथसन ने कहा कि रेवाड़ी रेप कांड में अगर कोई सैन्यकर्मी संलिप्त पाया जाता है तो सेना आरोपी को सजा दिलवाने में मदद करेगी।

 

हालांकि, इस मामले की जांच कर रही एसआईटी ने एक शख्स को हिरासत में लिया है। जानकारी के मुताबिक, गिरफ्तार व्यक्ति से पूछताछ की जा रही है। आरोपी का नाम दीनदयाल है। सूत्र बताते हैं कि दीनदयाल ने ही आरोपियों को जगह किराए पर दी थी जहां 19 वर्षीय सीबीएसई टॉपर छात्रा से रेप की वारदात को अंजाम दिया गया। सूत्रों ने बताया कि रेप के बाद आरोपियों ने जिस डॉक्टर से पीड़िता की जांच कराई थी उसे भी हिरासत में ले लिया गया है।

 

Also Read : भाजपा विधायक ने पार्टी को किया कटघरे में खड़ा, बताया- बेरोजगारी को बढ़ते रेप की मुख्य वजह

 

ये है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, पीड़िता रोज की तरह सुबह-सुबह अपने कोचिंग क्लास के लिए निकली थी। रास्ते में ही उसे अपने ही गांव के तीन युवक मिले। उन लोगों ने पीड़िता को लिफ्ट देने के बहाने उसे गाड़ी में बैठा लिया। अपने गांव से पैदल ही कोचिंग सेंटर जाने की वजह से युवती को प्यास लगी थी। ऐसे में लड़कों ने उसे पानी पीने को दिया। युवती को नहीं मालूम था कि पानी में नशीला पदार्थ मिलाया गया था।

 

नशीला पदार्थ मिला पानी पिलाने के बाद तीनों युवकों ने उसे किडनैप कर एक खेत में ले गए और उसके साथ गैंगरेप किया। आरोप है कि युवकों ने इस दौरान और भी कई लोगों को बुलाया और सभी ने बारी बारी से उसका रेप किया। इसके बाद पीड़िता को करीब शाम चार बजे के आसपास लड़कों ने उसे बेहोशी की हालत में कनीना बस स्टैंड पर छोड़कर फरार हो गए।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बीवी ने खत लिखकर शौहर को दिया ‘तीन तलाक’, उलेमा बोले- इस्लाम में हराम है ये

BT Bureau

बिजनौर: प्रेमजाल, जबरन धर्म परिवर्तन, निकाह के बाद 5 लाख की ठगी, फिर गैंगरेप, शौहर फराज और मौलाना समेत 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

S N Tiwari

कांवड़ यात्रा पर धारदार हथियारों से हमला, दूसरे धर्म के दर्जनभर युवकों के खिलाफ केस दर्ज

BT Bureau