Breaking Tube
Crime

शर्मनाक! मुस्लिम बाहुल्य इलाके में संक्रमण की जांच करने गई डॉक्टर टीम पर पत्थरबाजी, दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रकोप के बीच अपनी जान की परवाह किए बिना डॉक्टर दिन-रात लोगों को जिंदगी बचाने में लगे हैं. वहीं दूसरी तरफ कुछ जाहिल, मजहबी अंधे हैं कि देवदूत समान चिकित्सकों पर हमला कर रहे हैं. ताजा मामला मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) से आ रहा है. जहां स्वास्थ्य महकमे की टीम कोविड स्क्रीनिंग के लिये पहुंची थी. इसी बात पर स्थानीय लोग भड़क गये कथित तौर पर उन्होंने पुलिस के बैरिकेड को तोड़ा और स्वास्थ्यकर्मियों पर पथराव कर दिया, बाद में पुलिसवालों ने मौके पर पहुंचकर मामला शांत करवाया.


बता दें कि इंदौर में अब तक 17 लोग पॉजिटिव पाए वहीं 4 लोगों की मौत भी हो चुकी है इसके बावजूद भी लोग कोरोना को गंभीरता से लेने को तैयार नहीं हैं. जानकारी के मुताबिक घटना दोपहर सवा बजे टाटपट्टी बाखल की है. सिलावटपुरा में एक कोरोना पॉजिटिव की मौत के बाद यहां स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार स्क्रीनिंग कर रही है. संदिग्धों की जांच की जा रही है. इसी दौरान यहां लोगों ने उपद्रव मचाते हुए पथराव कर दिया.


स्वास्थ्य विभाग की एक महिलाकर्मी ने पुलिस को बताया कि बुधवार को एक पॉजिटिव के काॅन्टेक्ट की हिस्ट्री मिली थी. वे उसे देखने के लिए वहां गए थे. टीम ने जैसे ही उसके बारे में पूछना शुरू किया तो सामने से आए कुछ उपद्रवियों ने पत्थर फेंकना शुरू कर दिया. टीम कुछ समझ पाती इसके पहले ही चेहरे पर रुमाल बांधकर कई लोग आ गए और चिल्लाते हुए पत्थर मारने लगे. इससे बचने के लिए महिलाएं और पुरुष स्वास्थ्यकर्मी व डॉक्टर अपनी कारों की तरफ भागे. पता चला है कि उनके साथ एक तहसीलदार भी मौजूद थे. उपद्रवी पथराव करते हुए गली से मेनरोड की तरफ भागे. स्वास्थ्यकर्मी कार से सीधे थाने की तरफ भागे.


डॉक्टरों पर थूक रहे संक्रमित जमाती

बता दें कि यह कोई पहला मामला नहीं है जब स्वास्थ्यकर्मियों के साथ बदसलूकी की गई हो, इससे पहले दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज की इमारत से बुधवार सुबह तक दो हजार से ज्यादा जमातियों को बाहर निकाला गया. तबलीगी जमात के 167 लोगों को बसों के जरिए मंगलवार रात तुगलकाबाद क्वारैंटाइन सेंटर ले जाया गया था. इन्हें दो जगहों पर रखा गया है. दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि ये लोग कोरोना वायरस को हल्के में ले रहे हैं. ये लोग क्वारैंटाइन सेंटर में जगह-जगह थूक रहे हैं. यहां तक कि इन लोगों ने डॉक्टरों और देखरेख में जुटे स्टाफ को गालियां तक दीं और उन पर थूका.


AlsO Read: दिल्ली: जमातियों ने बसों की खिड़कियों से सड़कों पर थूका, संक्रमण के चलते इलाके में अफरा-तफरी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: दारोगा की बेटी से चार युवकों ने किया गैंगरेप, थाने के सामने फेंककर भागे आरोपी, हालत नाजुक

Jitendra Nishad

आगरा: समाजवादी पार्टी के नेता की सरेआम गुंडागर्दी, पैसे मांगने पर गैराज मालिक पर चढ़ा दी कार, Video वायरल

S N Tiwari

BSP सांसद अतुल राय ने कोर्ट में किया सरेंडर, न्यायिक अभिरक्षा में 14 दिन की जेल

S N Tiwari