Breaking Tube
Crime UP News

UP में अतीक गैंग पर कार्रवाई जारी, खास गुर्गे के अवैध कब्जे पर चला बुलडोजर

बाहुबली सांसद अतीक अहमद और उसके करीबियों पर प्रशासन लगातार ही कार्रवाई कर रही है। जिसके अन्तर्गत अब अतीक अहमद के भाई अशरफ के रिश्तेदार मोहम्मद जैद की कौशांबी स्थित करोड़ों की आलीशान बिल्डिंग ढहा दी गई। इससे पहले भी अतीक अहमद और उसके करीबियों पर लगातार कार्रवाई का सिलसिला जारी है। अभी तक करोड़ों रुपए की अवैध संपत्ति पर कार्रवाई हो चुकी है।


करोड़ों की बिल्डिंग पर चला बुलडोजर

जानकारी के मुताबिक, बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के भाई व पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ अशरफ के ससुरालियों के खिलाफ भी पुलिस और प्रशासन अब कार्रवाई में जुट गया है। प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने अतीक अहमद के भाई अशरफ के साले मोहम्मद जैद के करोड़ों के आलीशान बिल्डिंग पर भी सरकारी बुलडोजर चलाकर उसे जमींदोज कर दिया है। तीन साल से फरार चल रहे अशरफ को तीन जुलाई को क्राइम ब्रांच और पुलिस ने उसके ससुराल में इसी मकान से गिरफ्तार किया था।


कौशांबी में हुई कार्रवाई

दरअसल कौशाम्बी जिले के पूरा मुफ्ती थाना अन्तर्गत सल्लाहपुर चौकी क्षेत्र के हटवा गांव में करोड़ों की लागत से 600 वर्ग मीटर भूमि पर दो मंजिला आलीशान बिल्डिंग खड़ी की थी। जिसका मानचित्र प्रयागराज विकास प्राधिकरण से स्वीकृत नहीं था। इसके साथ ही बिल्डिंग से सटी 800 वर्ग मीटर जमीन पर भी जैद ने कब्जा कर रखा था. जिसके बाद प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने नगर नियोजन एवं विकास अधिनियम 1973 के तहत विधिक ध्वस्तीकरण आदेश पारित कर ये कार्रवाई की है। ध्वस्तीकरण की कार्रवाई से पहले बिल्डिंग को खाली कराया गया और बाउन्ड्रीवाल को सबसे पहले ध्वस्त किया गया। जिसके बाद 600 वर्ग मीटर में बने भवन को जेसीबी मशीनें लगाकर जमींदोज कर दिया गया।


Also Read: अलीगढ़: SO ने नहीं की थी थाने में BJP विधायक से मारपीट, शासन ने दी क्लीनचिट, सस्पेंशन भी वापस


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

योगीराज में माफियाओं पर शिकंजा, मुख्तार के बाद अब अतीक की 60 करोड़ की 7 संपत्तियां कुर्क

BT Bureau

बकरीद को लेकर BJP विधायक बोले- कु्र्बानी ही देनी है तो बकरे की क्यों देते.. अपने बच्चों की दें

BT Bureau

मॉब लिंचिंग: मुस्लिम धर्म की भीड़ ने हिन्दू युवक को पीट-पीटकर किया अधमरा

BT Bureau