Breaking Tube
Crime UP News

बहराइच: राम मंदिर के विरोध में मुसलमानों को भड़काया, PFI के 3 सक्रिय सदस्य गिरफ्तार, विदेशों से मिलती थी फंडिंग

पांच अगस्त को अयोध्या में हुए श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन को लेकर पहले ही पूरी यूपी में अलर्ट जारी कर दिया गया था। जिसके अन्तर्गत सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही थी। बावजूद इसके कई जगह उन्माद फैलाने की कोशिश सोशल मीडिया के जरिए की गई। पुलिस ने कई जगह ऐसे व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट किया था। पुलिस ने बहराइच जिले में भी तीन युवकों को इस मामले में गिरफ्तार किया है। ये तीनों ही पीएफआई और एसडीपीआई के सदस्य है । जिनके लिए विदेशों से फंडिंग की जा रही थी


खुफिया एजेंसी ने रखी थी सोशल मीडिया पर नजर

जानकारी के मुताबिक, बुधवार को ट्विटर पर अयोध्या कार्यक्रम को पोस्ट कर उन्माद फैलाने की कोशिश शुरू की गई, तभी खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गईं और जरवल में छापामारी कर डॉ. अलीम अहमद की क्लीनिक से उन्हें समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया। तीनों को देर रात तक पुलिस व खुफिया विभाग के अधिकारी पूछताछ में जुटे रहे।


Also Read: संजीत अपहरण कांड की हो सकती है CBI जांच, रडार पर होंगे लापरवाह पुलिसकर्मी


जांच में आरोपियों के मोबाइल में भड़काऊ संदेश मिले, जिसके बाद तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने तीनों के मोबाइल फोन को भी जब्त कर लिया है। पूछताछ में इनकी पहचान जरवल के अट्ठैसा निवासी डॉ. अलीम, मुहल्ला सराय काजी निवासी साहिबे आलम व कमरुद्दीन के रूप में हुई है। इनमें साहिबे आलम एसडीपीआइ का पूर्व जिलाध्यक्ष है।


विदेशों से मिल रही थी फंडिंग

बता दें कि पुलिस सूत्रों का कहना है कि यह लोग अयोध्या कार्यक्रम के जरिए विशेष समुदाय के लोगों में आक्रोश फैलाना चाह रहे थे। इनकी मदद दिल्ली, लखनऊ व सऊदी अरब में बैठे लोग आर्थिक रूप से कर रहे थे। खुफिया एजेंसियों के अनुसार तीनों आरोपी पीएफआई (पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) व एसडीपीआइ (सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया) के सक्रिय सदस्य हैं। तीन सदस्यों के सामने आने के बाद पीएफआइ व एसडीपीआइ के बहराइच में सक्रिय होने के सबूत ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

‘मुझे कोरोना है’..कहकर पुलिस के सामने से भाग गया चोर

BT Bureau

बरेली: कबूतर की जान बचाने को दारोगा ने चलाया अभियान, बेजुबान ने यूं दिया धन्यवाद

Shruti Gaur

कमलेश तिवारी हत्याकांड: अलहिंद ब्रिगेड नामक कट्टर इस्लामिक संगठन ने ली जिम्मेदारी, जांच में जुटी पुलिस

BT Bureau