Breaking Tube
Crime

आगरा: सिपाही भर्ती में भाई की जगह दौड़ लगाने पहुंचा दारोगा, खुल गयी पोल

आगरा (Agra) में सिपाही भर्ती के लिए फिजिकल परीक्षा चल रही है. जिसके अंतर्गत गुरूवार को दौड़ होनी थी. इस दौड़ में दो फर्जी अभ्यर्थी पकड़े गये हैं. इनमें से एक ट्रेनी दारोगा भी है. जोकि अपने चचेरे भाई की जगह दौड़ लगाने आया था. वहीं दूसरे अरोपी ने लिखित परीक्षा में सॉल्वर की मदद ली थी. दोनों की पोल खुलने के बाद इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. जल्द ही दारोगा के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जायेगी.


धोखे से दी परीक्षा

जानकारी के मुताबिक, आगरा (Agra) में 15वीं वाहिनी पीएसी में पुलिस आरक्षी भर्ती परीक्षा का शारीरिक दक्षता परीक्षण चल रहा है. इसमें अभ्यर्थियों को 4.8 किलोमीटर की दौड़ लगानी है. इसी दौड़ में जांच करने वाली टीम ने दो फर्जी अभ्यर्थी कड़े हैं. इनमे से एक का नाम जीतेन्द्र सिंह है, जोकि सीतापुर जिले में दारोगा की ट्रेनिंग ले रहा है. यह अपने चचेरे भाई धर्मवीर सिंह की जगह दौड़ लगाई थी. पोल खुलने के बाद ट्रेनी दारोगा ने बताया कि उसने धोखे से लिखित परीक्षा भी दी थी.


Also Read : शामली: सिपाही ने फांसी लगाने से पहले फोन कर कहा था- अब बर्दाश्त नहीं होता, बहुत परेशान हो गया हूं


वहीं दूसरे अभ्यर्थी का नाम राजेश कुमार के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज हुआ है. क्योंकि उसकी जगह लिखित परीक्षा सुधीर नमक व्यक्ति ने दी थी. जब बायोमैट्रिक जांच हुई तब राजेश की पोल खुल गयी. सख्ती से पूछने पर उसने खुद ही पूरा राज उगल दिया.


सख्ती से हो रही जांच

बता दें कि आगरा (Agra) पुलिस लाइन में चल रही पुलिस आरक्षी भर्ती परीक्षा की दस्तावेज समीक्षा और शारीरिक मानक परीक्षण में 30 से ज्यादा फर्जी अभ्यर्थी पकड़े गए थे. चार गैंग का नाम भी सामने आया था. जिसके चलते परीक्षा में जांच करने वाली टीम काफी सतर्कता से काम कर रही है.


Also Read : कानपुर: सिपाही ने संदिग्ध हालत में खुद को मारी गोली, महकमे में मचा हड़कम्प


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग की तो हो सकते हो कंगाल

Satya Prakash

मस्जिद के सामने पहुंची दलित की बारात, मुस्लिम समुदाय के लोगों ने किया पथराव, एक की मौत और कई घायल

S N Tiwari

बुलंदशहर DM के बाद अब लखनऊ में IAS के घर सीबीआई ने मारा छापा

BT Bureau