Breaking Tube
Crime UP News

राक्षस था विकास दुबे, पुलिसकर्मियों के शव को जलाने की थी साजिश, साथी उमाकांत ने पुलिस को बताया

कानपुर कांड के आरोपी अब पुलिस के डर से एक एक करके सरेंडर करने में लगे हैं। शनिवार को ही एक पचास हजार के ईनामी उमाकांत शुक्ला ने थाने में जाकर आत्म समर्पण किया है। सरेंडर के बाद उमाकांत ने कई मामलों बड़े खुलासे किए हैं। उसका कहना है कि विकास दुबे अपनी दहशत कायम रखने को हैवानियत की किसी भी हद को पार करने को तैयार रहता था।


शहीद पुलिसकर्मियों को लेकर बड़ा खुलासा

दो जुलाई को कानपुर जिले ने हुए शूटआउट कांड में अब सरेंडर करने वाले ईनामी बदमाश उमाकांत ने कई खुलासे किए हैं। उमाकांत के मुताबिक, उस का घर उस शौचालय के सामने है जहां पर पांच सिपाहियों के शव रखे गए थे। उसने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह प्रवीन की छत पर बंदूक के साथ मौजूद था। सिपाहियों को खोज खोजकर मारा गया था। उसके बाद उनके शवों को घसीटकर शौचालय में एक के ऊपर एक रखा गया। जिसके बाद विकास दुबे ने मिट्टी के तेल का पीपा मंगा लिया था। वह सिपाहियों के शव को जला देना चाहता था। मगर कुछ साथियों ने उसे रोक लिया था। 


Also read: कानपुर कांड के एक और आरोपी ने किया सरेंडर, थाने पहुंच कर बोला – मुझ पर रहम करो


इसके अलावा उमाकांत ने पुलिस को बताया कि विकास दुबे गैंग द्वारा बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात 8 पुलिसकर्मियों की हत्या में वह भी शामिल था। उसने अपने बयान में कहा, ”विकास दुबे बहुत ही राक्षसी प्रवृत्ति का आदमी था। अमर, प्रभात, जिलेदार, रामसिंह और अतुल दुबे समेत कई लोग इस हत्याकांड में शामिल थे। दर्जनों गांवों में विकास का आतंक था। उसकी रजामंदी के बिना कोई प्रधान नहीं बन सकता था।


पचास हजार का इनामी है उमाकांत

उमाकांत के सिर पर पुलिस ने 50 हजार का इनाम रखा था। उमाकांत थाने में जब सरेंडर करने पहुंचा तो उनकी पत्नी और बच्चे भी साथ थे। उमाकांत उन 21 वांछित लोगों में शुमार था, जिनकी पुलिस बिकरू हत्याकांड के बाद से तलाश कर रही थी। उमाकांत शुक्ला ने पुलिस से कहा मेरा नाम उमाकांत शुक्ला उर्फ गुड्डन है। कानपुर कांड में मैं विकास दुबे के साथ शामिल था। मुझे पकड़ने के लिए रोज पुलिस छापेमारी कर रही है, जिससे मैं बहुत डरा हुआ हूं। हम लोगों द्वारा जो घटना की गई थी, उसकी हमें बहुत आत्मग्लानि है। मैं खुद पुलिस के सामने हाजिर हो रहा हूं। मेरी जान की रक्षा की जाए, मुझ पर रहम किया जाए।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

लखनऊ: CM योगी ने मृतक विवेक तिवारी की पत्नी से की मुलाकात, पत्नी ने जताया योगी सरकार पर भरोसा

BT Bureau

योगी सरकार के कैबिनेट मिनिस्टर सतीश महाना को हुआ कोरोना, अब तक 14 मंत्री हो चुके हैं संक्रमित

Jitendra Nishad

यूपी के 23 पुलिस अफसरों को गैलेंट्री अवॉर्ड, 645 पुलिसकर्मियों को किया जाएगा सम्मानित

Shruti Gaur