Breaking Tube
Crime

उन्नाव केस: पीड़िता की बहन की मांग- मुझे मिलनी चाहिए सरकारी नौकरी

उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म केस (Unnao gangrape case) की पीड़िता का आज अंतिम संस्कार किया जाएगा. हालांकि परिजन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले बगैर शव का अंतिम संस्कार नहीं करने पर अड़े हैं. पीड़िता के पिता ने कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री खुद नहीं आते, वह अपनी लड़की का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे. हालांकि, स्थानीय स्तर पर उसे मनाने की कोशिश की जा रही है. पीड़िता की बहन ने योगी सरकार से अपने लिए सरकारी नौकरी की मांग की है.


पीड़िता की बहन का कहना है कि जब तक सीएम योगी नहीं आएंगे तब तक वह शव के पास से वह नहीं हटेगी. रेप पीड़िता की बहन ने इसके साथ ही अपने लिए सरकारी नौकरी की मांग की है. उन्होंने कहा, ‘मैं मांग करती हूं कि मुझे सरकारी नौकरी मिलनी चाहिए. इस दौरान अधिकारियों ने उन्हें समझाने की कोशिश की.


इससे पहले कैबिनेट मंत्री कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य शनिवार देर शाम दोबारा गांव पहुंचे. उन्होंने पीड़िता के पिता को 25 लाख रुपये का चेक दिया. प्रदेश सरकार ने पीड़िता के परिवार को पीएम आवास योजना के तहत घर देने का भी ऐलान किया है. डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय ने कहा कि दुष्कर्म पीड़िता के पिता को जल्द प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत पक्का आवास दिलाया जाएगा.


बता दें कि पीड़िता परिवार की मदद के लिए सभी दलों ने हाथ बढ़ाया है. जानकारी के मुताबिक कांग्रेस ने मृतका के परिजनों को 5 लाख तो समाजवादी ने 1 लाख तो वहीं अपना दल की अनुप्रिया पटेल ने भी 1 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की है.


Also Read: यूपी: BSP सांसद पर दुष्कर्म का आरोप तय, छात्रा का अश्लील Video बनाकर दी थी जान से मारने की धमकी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बिजनौर: पुलिसकर्मियों पर मुकदमे को लेकर UP Police का U-टर्न, SP बोले- कानूनी कारणों से नहीं दर्ज हो सकती FIR

BT Bureau

जौनपुर: जुए में पैसे खत्म होने पर जुआरी पति ने दांव पर लगाई अपनी पत्नी, जीतने वाले साथियों ने किया गैंगरेप

S N Tiwari

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर दर्दनाक हादसा, अब तक 29 शव बरामद, CM ने मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख की मदद देने का किया ऐलान

BT Bureau