Breaking Tube
Crime

ममता बनर्जी ने जिस दरगाह को दिए 2.60 करोड़, उसी मौलाना के पार्टी कार्यकर्ता के घर से बम-बंदूक बरामद

West Bengal Maulana abbas siddiqui

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के विवादित मौलाना अब्बास सिद्दीकी (Maulana abbas siddiqui) की पार्टी इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आईएसएफ) के एक कार्यकर्ता के यहां से बम मिलने से हड़कंप मच गया है। जिस आईएसएफ कार्यकर्ता के यहां से बम बरामद हुए हैं, उसकी पहचान जियारुल मोल्लाह के रूप में की गई है। बताया जा रहा है कि वो पहले से ही भगोड़ा है। उसके पिता जलील मोल्लाह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।


मिली जानकारी के अनुसार, ये घटना साउथ 24 परगना जिले की है। बारिऊपुर के डीएसपी (क्राइम) तमल सरकार ने बताया कि रात को सूत्रों से सूचना मिलने के बाद आईएसएफ कार्यकर्ता जियारुल मोल्लाह के घर में तलाशी ली गई। इस दौरान उसके घर से एक शॉटगन, कुछ बम और बम बनाने की मशीन भी मिली है।


Also Read: लखनऊ फायरिंग में बड़ा खुलासा, BJP सांसद के बेटे ने खुद ही चलवाई थी अपने ऊपर गोली


उन्होंने बताया कि आरोपी की तलाश में दबिश दी जा रही है। बता दें कि आदर्श अचार संहिता लागू होने से कुछ ही घंटों पहले ममत बनर्जी की नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार ने फुरफुरा शरीफ के विकास के लिए 2.60 करोड़ रुपए आवंटित किए। ये वही दरगाह है, जिसके मुख्य मौलाना अब्बास सिद्दीकी हैं।


ये अब्बास सिद्दीकी वही मौलाना हैं, जिन्होंने भारतीयों के वायरस से मरने की दुआ मांग थी। यही नहीं, वो दलित को हिंदुओं से अलग भी बताते हैं। आईएसएफ वैसे तो ममता बनर्जी की टीएमसी के खिलाफ कांग्रेस-लेफ्ट के गठबंधन के साथ हैं, लेकिन कांग्रेस का कहना है कि लेफ्ट ने उसे अपने हिस्से की सीटें दी हैं। अब्बास सिद्दीकी भी लेफ्ट उम्मीदवारों को समर्थन देने की बात कर चुके हैं।


बता दें कि इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आईएसएफ) प्रमुख अब्बास सिद्दिकी अपने समर्थकों के बीचे ‘भाईजान’ के नाम से मशहूर हैं। वह कोलकाता से 50 किलोमीटर दूर हूगली जिले में फुरफुरा शरीफ में मौलाना हैं। वह फुरफुरा शरीफ के पीरजादा हैं। यह मुस्लिमों का एक धार्मिक स्थल है। पीरजादा लोगों को अपनी ओर करने के लिए जाने जाते हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मुरादाबाद पथराव: पहले से ही थी हमले की तैयारी, सफेद एप्रिन देखते ही फेंकने लगे थे पत्थर

BT Bureau

UP: एनकाउंटर के डर से खुद थाने सरेंडर करने पहुंचा गैंगस्टर नईम, पकड़े पुलिस के पैर, कहा- गोली मत मारना

Jitendra Nishad

अलवर में 3 गोतस्कर गिरफ्तार, 100 किलो गोमांस बरामद

BT Bureau