Breaking Tube
Education

अबसे यूपीपीएससी की सभी स्क्रीनिंग परीक्षाओं में होगी माइनस मार्किंग

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग यानी UPPSC की सभी स्क्रीनिंग परीक्षाओं में भी अब माइनस मार्किंग लागू होगी. अभी तक यह व्यवस्था कुछ बड़ी परीक्षाओं के लिए ही थी. PCS-J 2018 की प्रारंभिक परीक्षा में भी माइनस मार्किंग रहेगी. परीक्षाओं में अनुमान से अधिक आवेदन होने के चलते तुक्केबाजी पर लगाम और योग्य उम्मीदवारों का ही भर्तियों में चयन होने के नजरिए से यूपीपीएससी ने यह कदम उठाया है. पिछले दिनों यूपीपीएससी की हुई बैठक में इस पर निर्णय लिया गया.

 

तुक्केबाजी पर लगेगी लगाम 

विभिन्न परीक्षाओं के चार वैकल्पिक उत्तरों वाले प्रश्नपत्रों में माइनस मार्किंग की व्यवस्था दरअसल तुक्केबाजी में परीक्षा उत्तीर्ण कर चयनित होने वाले अभ्यर्थियों पर लगाम के लिए है. अभी तक पीसीएस, पीसीएस जे, आरओ-एआरओ व लोअर सबॉर्डिनेट की होने वाली प्रारंभिक परीक्षा में ही माइनस मार्किंग होती रही है. 29 जुलाई को हुई एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती 2018 की परीक्षा में भी अभ्यर्थियों की तादाद सात लाख से अधिक हो जाने पर माइनस मार्किंग लागू की गई थी.

 

इसमें हर एक गलत उत्तर पर 0.33 यानि एक सही उत्तर पर एक तिहाई अंक काटने की व्यवस्था है. यूपीपीएससी ने पिछले माह सीधी भर्ती से होने वाले चयन की व्यवस्था में बदलाव करते हुए प्रत्येक भर्ती पर स्क्रीनिंग परीक्षा कराने का निर्णय लिया था. इससे यूपीपीएससी की आगामी सभी स्क्रीनिंग परीक्षाओं में माइनस मार्किंग लागू कर दी गई है. सचिव जगदीश ने बताया है कि पीसीएस जे परीक्षा 2018 की प्रारंभिक परीक्षा में माइनस मार्किंग रहेगी. यही व्यवस्था आगे भी रखे जाने का निर्णय लिया गया है.

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

68500 शिक्षक भर्ती: हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, 45/40 कट ऑफ पर भर्ती कराने का दिया आदेश

BT Bureau

‘पाकिस्तान इज अवर मदरलैंड, आई विल जॉइन पाक आर्मी’, शादाब खानम ने बच्चों को पढ़ाई ऐसी अंग्रेजी कि मचा बवाल

Jitendra Nishad

अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से नहीं बदलेगी रेलवे की परीक्षा

BT Bureau