देश के पहले लोकपाल बनेंगे सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पीसी घोष

देश में लोकपाल को लेकर काफी लम्बे वक्त से मांग चल रही है, जो कि अब पूरी होने जा रही है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश पिनाकी चंद्र घोष (पीसी घोष) भारत के पहले लोकपाल बनेंगे.जस्टिस पीसी घोष ने ही शशिकला और अन्य को भ्रष्टाचार के मामले में दोषी ठहराया था. जस्टिस पीसी घोष के अलावा इस लोकपाल में न्यायपालिका से हाईकोर्ट के 4 पूर्व न्यायधीश, चार आईएएस और आईपीएस व अन्य सेवाओं के रिटायर अधिकारी शामिल होंगे.


पुडुचेरी की ले. गवर्नर किरण बेदी ने लोकपाल की नियुक्ति पर खुशी जाहिर करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि लोकपाल की नियुक्ति पर बेहद खुश हूं. इस कदम से देश के सिस्टम में व्याप्त भ्रष्टाचार से निपटने में खासी मदद मिलेगी. किरण बेदी ने इसके लिए अन्ना हजारे का भी धन्यवाद किया है. बता दें, अन्ना हजारे ने देश में लोकपाल के लिए बड़ा आंदोलन खड़ा किया था.



जस्टिस घोष के नाम का आधिकारिक तौर पर ऐलान सोमवार को किया जाएगा. पीसी घोष वर्तमान में राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग (NHRC) के सदस्य हैं.वह मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट से रिटायर हुए थे. इससे पहले वह कोलकाता और आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रह चुके हैं. गौरतलब है कि साल 2013 में लोकपाल व लोकायुक्त विधेयक पास किया गया था.


Also Read: अलका का केजरीवाल पर गंभीर आरोप, बंद कमरे में आपत्तिजनक और अभद्र बातें कहते हैं सीएम


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )