Breaking Tube
Government Politics

यूपी: योगी सरकार में 65% घटी इंसेफेलाइटिस से होने वाली मौतें

योगी आदित्यानाथ सरकार (Yogi Government) के दौरान उत्तर प्रदेश में इंसेफेलाइटिस (encephalitis) से होने वाली मौतों में भारी गिरावट आई है, ऐसा यूपी सरकार की तरफ से दावा किया जा रहा है. सरकारी प्रवक्ता ने अखिलेश यादव के दावों को आधारहीन बताते हुए सरकारी आंकड़े रखे है. उन्होंने बताया कि 2016 के मुकाबले इंसेफलाइटिस से होने वाली मौतों में 65% कमी आई है. एईएस से होने वाली मौतें घटकर 4% से नीचे आ गई हैं.


सरकार की तरफ से भी यह भी दावा किया गया कि योगी सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं के मामले में उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदली है. 38 जिलों में इंसेफ्लाइटिस का खतरा कम हुआ है. चार दशक से पूर्वांचल के मासूमों के लिए काल बनी इंसेफेलाइटिस के मामलों में 35 फीसदी की कमी आई है. इंसेफ्लाइटिस से होने वाली मौतों के आंकड़ों में 65 प्रतिशत की कमी आई.


प्रवक्ता के अनुसार पूर्वांचल में 40 लाख बच्चों का टीकाकरण हुआ. विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा से इंसेफ्लाइटिस पर  काबू पा गया. घर घर जाकर दस्तक अभियान की शुरुआत हुई. एईएस से होने वाली मृत्यु दर सिर्फ़ 3.73 फीसदी रह गई. गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बेड की संख्या बढ़ी.  इंसेफ्लाइटिस के इलाज के लिए पर्याप्त मात्रा में वॉर्मर उपलब्ध कराए गए. साल 2016 में एईएस के 3911 मरीज भर्ती किए गए, जिनमें से 641 की मौत हुई. साल 2017 में मरीजों की तादाद 4724 हुई, जिनमें 655 की मौत हुई. साल 2018 से इन आंकड़ो में आई गिरावट आनी शुरू हुई. पिछले साल 3077 मरीज भर्ती हुए और मौत का आंकड़ा 248 रहा. साल 2016 में जेई की वजह से 74 लोगों की मौत हुई, वहीं 2018 में जेई की वजह से 30 लोगों की मौत हुई.


Also Read: सीएम योगी का सभी DM को फरमान, 10 जनवरी तक सभी आवारा गायों को गोशाला पहुंचा


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

सुल्तानपुर: BJP उम्मीदवार और गठबंधन प्रत्याशी में झड़प, मेनका गांधी बोलीं- नहीं चलेगी दबंगई

BT Bureau

गोडसे को देशभक्त बताने पर भड़के PM मोदी, बोले- साध्वी प्रज्ञा को कभी माफ नहीं कर पाऊंगा

BT Bureau

यूपी: आजम के बाद अब कल्लू खां पर लगा 100 करोड़ की सरकारी जमीन कब्जाने का आरोप, मामले पर सपा नेता ने साधी चुप्पी

S N Tiwari