Breaking Tube
Government UP News

गोरखपुर: 800 से ज्यादा गरीब परिवारों को बेटी की शादी के लिए मिला अनुदान, परिजनों ने CM योगी को दिया धन्यवाद

Farmers of manbella

जब से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) प्रदेश के मुखिया बने हैं तब से उन्होंने समाज के लोगों के लिए तरह तरह की योजनाएं चलाईं हैं. इसी के अंतर्गत मुख्यमंत्री ने शादी अनुदान योजना की शुरुआत की थी. इस अभियान के तहत गोरखपुर में 2020-2021 में 841 गरीब परिवारों को बेटी की शादी के लिए 20 हजार रुपए का अनुदान दिया गया है. ताकि किसी भी गरीब की बेटी की शादी में किसी प्रकार की कोई दिक्कत न आ आने पाए.


लोग कर रहे धन्यवाद

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में किसी भी गरीब परिवार की बेटी की शादी में कोई दिक्कत न आये इसके लिए मुख्यमंत्री ने शादी अनुदान योजना की दोबारा शुरुआत की थी. विवाह अनुदान की योजना के तहत 2013 और 2014 में तत्कालीन सरकार सिर्फ 10 हजार का अनुदान देती थी, लेकिन बाद में 2015-16 में तत्कालीन सरकार ने इस योजना को पूरी तरह से बंद कर दिया लेकिन 2017 में सत्ता में आने के बाद सीएम योगी ने इस योजना को दोबारा शुरु करते हुए अनुदान राशि को भी दोगुना कर दिया था. जिसके तहत गोरखपुर में 2020-2021 में 841 गरीब परिवारों को बेटी की शादी के लिए 20 हजार रुपए का अनुदान दिया गया है.


वहीँ अगर इस योजना के लाभार्थियों की बात करें तो सहजनवां ब्लाक के भरसाड़ निवासी रहोली, अनंतपुर की कुंतीदेवी के लिए अनुदान बड़ा सहारा बना. पिपरौली परसाडाड़ की लालमती देवी भी काफी खुश हैं. वहीं, पाली ब्लाक के टिकरिया निवासी महंथ अनुदान पाने के बाद योगी सरकार के मुरीद हो गए. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की तरफ से छोटी ही सही, लेकिन समय से मिला अनुदान उनकी बिटिया की शादी के लिए काफी मायने रखता है. वह इस अनुदान की आस छोड़ चुके थे, लेकिन जब उनके मोबाइल में रकम आने का मैसेज आया, तो जैसे उनमें जान आ गई. क्योंकि तब उन्हें पैसे की काफी जरूरत थी.


ऐसे करें आवेदन

बता दें कि प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में जिनकी वार्षिक आय 46080 रुपये से कम है और शहरी क्षेत्र में 56400 रुपये से कम है, ऐसे लोग शादी अनुदान के लिए पात्र हैं. शादी की तारीख से 90 दिन बाद वह आनलाइन आवेदन कर सकते हैं. आवेदन की हार्ड कापी बीडीओ कार्यालय में और शहरी इलाकों के आवेदक तहसील कार्यालय में जमा कर सकते हैं.


शादी अनुदान योजना के लिए पात्रता

-आवेदक उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए
-एक परिवार अधिकतम 2 पुत्रियों के लिए आवेदन कर सकता है
-आवेदन करते समय पुत्री की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक हो
-आवेदन केवल शादी की तिथि से 90 दिन पहले अथवा 90 दिन बाद तक ही मान्य होगा
-इस योजना में विधवा एवं विकलांग पेंशन लाभार्थियों को वरीयता प्रदान की जाती है


शादी अनुदान के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

पहचान पत्र, बैंक पासबुक, आय प्रमाण-पत्र, जाती प्रमाण-पत्र, शादी प्रमाण-पत्र, पुत्री की आयु से संबंधित प्रमाण पत्र या शैक्षणिक रिकार्ड जिसमें जन्म तिथि अंकित हो, परिवार का रजिस्टर्ड प्रमाण पत्र जैसे राशन कार्ड, पुत्री के आयु प्रमाण पत्र में परिवार रजिस्टर की नक़ल, शिक्षा संबंधित प्रमाण पत्र, आधार कार्ड की फोटो कापी आदि दस्तावेज लगेंगे.


Also Read: यूपी: धार्मिक स्थलों पर एक साथ 5 लोगों से अधिक के प्रवेश पर बैन, CM ने दिए आदेश


Also Read: UP में कोरोना कहर के चलते 14 जिलों में नाइट कर्फ्यू, शादी-विवाह के लिए जारी हुईं नई गाइडलाइन्स


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

अखिलेश का जन्मदिन मनाने के चक्कर में उड़ाई सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, SP सांसद डॉ. एसटी हसन और 4 विधायकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

BT Bureau

कोरोना वैक्सीनेशन में UP अव्वल, एक दिन में 5 लाख से ज्यादा टीकाकरण का बनाया रिकॉर्ड

Shruti Gaur

Farmer Protest: अखिलेश को पदयात्रा से रोकने की तैयारी, घर के बाहर भारी पुलिस बल, हिरासत में कई सपा नेता

Jitendra Nishad