Breaking Tube
Government

UP: ‘मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना’ के पहले चरण में 35 हजार युवाओं को कराई जाएगी इंटर्नशिप, मिलेगा 2500 रुपए मानदेय

Mukhyamantri shishikshu protsahan yojana

योगी सरकार की ‘मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना’ (Mukhyamantri shishikshu protsahan yojana) के तहत पहले चरण में 35 हजार युवाओं को प्राइवेट संस्थानों में काम सीखने का मिलेगा। यहां काम सीखने के बाद सरकार इन शिशिक्षुओं यानि इंटर्न को निजी संस्थानों में नौकरी दिलाने की कोशिश भी करेगी। इंटर्नशिप के दौरान इन शिशिक्षुओं को 2500 रुपए महीने मिलेंगे, जिसमें से 1500 रुपए केंद्र और 1000 रुपए राज्य सरकार देगी।


जानकारी के अनुसार, राज्य की सरकार द्वारा इन शिशिक्षुओं को अपने हिस्से की अप्रेन्टिसशिप 1000 रुपए देने में इस साल 63 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। ऐसे में व्यवसायिक शिक्षा विभाग ने राज्य सरकार से 63 करोड़ रुपए की मांग की है। व्यवसायिक शिक्षा विभाग ने सरकार को मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना का पूरा खाका खींचकर भेजा है।


Also Read: सीएम योगी का ऐलान- हर युवा को इंटर्नशिप कराएंगे और देंगे 2500 रुपए मानदेय, प्लेसमेंट का भी होगा इंतजाम


विभाग ने यह भी बताया कि शिशिक्षु अधिनियम के तहत सरकारी, सहकारी, निगम व निजी उद्योग अपने यहां कुल कार्मिकों की संख्या का ढाई से 15 फीसदी तक अप्रेन्टिसशिप के तहत युवाओं को काम सीखने का मौका देते हैं। व्यवसायिक शिक्षा विभाग ने केंद्र सरकार के कौशल विकास मंत्रालय की तर्ज पर ही युवाओं को निजी संस्थानों में प्रशिक्षित कराया जा सकता है।


कौशल विकास मंत्रालय ने नेशनल अप्रेन्टिसशिप प्रोमोशन स्कीम में पांच तरीके से शिशिक्षुओं को बांटा है। इंजीनियरिंग में डिग्री लेने वाले स्नातक शिशिक्षु, सैंडविच पाठ्यक्रम शिशिक्षु (डिग्री संस्थाओं के छात्रों के लिए), तकनीकी शिशिक्षु (आईटीआई प्रशिक्षित अभ्यर्थियों के लिए), सैंडविच पाठ्यक्रम शिशिक्षु (डिप्लोमाधारकों के लिए), तकनीकी शिशिक्षु (स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए) हैं। इन वर्गों के लिए केंद्र सरकार के पोर्टल पर निजी संस्थान अपने यहां युवाओं को अप्रेन्टिसशिप पर रखने की जानकारी देते हैं।


Also Read: योगी सरकार ने बोर्ड परीक्षाओं से पहले शुरू किया हेल्पलाइन नंबर


बता दें कि सीएम योगी ने रविवार को गोरखपुर विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित वृहद रोजगार मेला और नियुक्ति पत्र समारोह को संबोधित करते हुए रोजगार को लेकर प्रदेश सरकार की एक बड़ी स्कीम का ऐलान किया। सीएम ने बताया कि इस साल सरकार की तरफ से एक इंटर्नशिप स्कीम शुरू की जा रही है, जिसके तहत युवाओं को उनकी शिक्षा के मुताबिक विभिन्न संस्थाओं और उद्योगों से जोड़ा जाएगा।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

अमृतसर रेल हादसा : नवजोत सिंह सिद्दू की पत्नी थीं मुख्य अतिथि, इसलिए बिना परमिशन आयोजित हुआ दशहरा कार्यक्रम

Jitendra Nishad

ग्रेने में 2 बिल्डिंगो के नीचे दबने से कई लोगों की मौत 3 शव बरामद, गैर इरादत हत्या का मामला दर्ज

Satya Prakash

शिवसेना ने साधा महाराष्ट्र सरकार पर निशाना, कहा- बालासाहेब ठाकरे नहीं होते तो हिंदुओं को भी पढ़नी पड़ती नमाज

BT Bureau