Breaking Tube
Business Government

हैंड सैनिटाइजर निर्माण में ‘आत्मनिर्भर’ बना UP, दूसरे राज्यों से आ रही भारी डिमांड

hand sanitizer manufacturing

कोरोना वायरस महामारी के शुरुआती दौर में उत्तर प्रदेश में भारी मात्रा में हैंड सैनिटाइजर (hand sanitizer) की जरूरत महसूस की गई और बीते दिनों इसकी बड़ी किल्लत भी देखने को मिली। लेकिन योगी सरकार के प्रयास से न सिर्फ हैंड सैनिटाइजर की कमी को दूर किया जा सका, बल्कि अब दूसरे राज्यों को भी इसका लाभ पहुंचाया जा रहा है।


25 मार्च से लॉकडाउन शुरू होने के बाद प्रदेश सरकार ने सभी चीनी मिलों को सैनिटाइजर बनाने का निर्देश जारी कर कर दिया था। सरकार का आदेश मिलते ही चीनी मिले भी इसे बनाने में जुट गईं और देखते ही देखते इसका उत्पादन (hand sanitizer manufacturing) बढ़ता चला गया। मौजूदा समय में उत्तर प्रदेश से अन्य राज्यों में सैनिटाइजर भेजा जा रहा है। चीनी मिलों के अलावा अन्य इकाइयों में भी हैंड सैनिटाइजर बनाया जा रहा है।


Also Read: प्रवासी मजदूरों की सुध लेने में योगी रहे आगे, घर वापसी के लिए सबसे अधिक ट्रेनों को मंजूरी देने वाला राज्य बना UP


आबकारी विभाग की तरफ से हैंड सैनिटाइजर बनाने और बेचने के लिए लाइसेंस की अनिवार्यता भी समाप्त कर दी गई है। ऐसे में अब प्रदेश में बड़े पैमाने पर हैंड सैनिटाइजर बनाया जा रहा है। खास बात तो ये है कि बाजार में इसकी कीमत भी काफी कम हो गई है। शुरूआती दिनों में दवा दुकानदारों ने इसे ऊंचे दामों पर बेचकर अच्छी रकम कमाई।


जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी रिसर्च ने भी इसका निर्माण शुरू किया। जिसके बाद लखनऊ नगर निगम को 200 लीटर और पुलिस विभाग को भी 200 लीटर सैनिटाइजर उपलब्ध कराया गया। यही वजह है कि दूसरे राज्य अब यूपी के हैंड सैनिटाइजर की डिमांड कर रहे हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

क्या आप जानते हैं गैस सिलेंडर की भी होती है EXPIRY DATE? दुर्घटना होने पर मिलता है 50 लाख तक का बीमा

admin

यूपी: तबलीगी जमातियों को लेकर ढिलाई नहीं, योगी ने दिए अस्थायी जेलों में भेजने का निर्देश

BT Bureau

आज से गुजरात के स्कूलों में यस सर, प्रेजेंट सर नहीं ‘जय हिंद, जय भारत’ कहना होगा

BT Bureau