Breaking Tube
Government UP News

UP Budget 2021: गंगा एक्सप्रेस वे के लिए 7689 करोड़, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए 1492 करोड़ और भूमि अधिग्रहण के लिए 7200 करोड़ रुपए का प्रावधान

Ganga Expressway Bundelkhand Expressway

कनेक्टिविटी और विकास एक दूसरे के पूरक हैं। यूपी जैसे लैंड लाक्ड प्रदेश के लिए तो और भी। बेहतर सडक़ें और विकसित एयरपोर्ट ही इसका विकल्प हैैं। इनके जरिए प्रदेश के उत्पाद आसानी से सुरक्षित और तेजी से देश दुनिया के बाजारों में पहुंच सकते हैं। बजट में सरकार ने इस पर पर्याप्त फोकस किया है। देश के सबसे लंबे गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना में भूमि अधिग्रहण के लिए 7200 करोड़ और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।


उल्लेखनीय है कि यह एक्सप्रेस वे मेरठ को प्रयागराज से जोड़ेगा। मेरठ और प्रयागराज के अलावा इससे हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली और प्रतापगढ़ भी जुड़ेंगे। छह लेन के इस एक्सप्रेस वे को आठ लेन तक किया जा सकेगा।


Also Read: UP Budget 2021: मजदूरों को घंटे के हिसाब पेमेंट, किसानों को मुफ्त पानी, सस्ते कर्ज का ऐलान, जानिए बजट में किसे क्या मिला


पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़


बजट में पूर्वांचल एक्सप्रेस के लिए 1107 करोड़, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ और बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए 1492 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। गौतमबुद्ध नगर के जेवर में बन रहे एशिया के सबसे बड़े नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट में रनवे की संख्या दो से बढ़ाकर छह करने का निर्णय योगी सरकार ने लिया है। इसके लिए बजट में 2000 करोड़ का प्रावधान किया है। पिछले साल के बजट में भी जेवर के लिए 2000 करोड़ का ही प्रावधान था। अयोध्या में निर्माणाधीन मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम एयरपोर्ट के लिए 101 करोड़ का प्रावधान किया गया है।


Also Read: योगी सरकार के पिटारे से निकला नए उत्तर प्रदेश का हसीन ख्वाब, पहले पेपरलेस बजट में 27,598.40 करोड़ रुपये की नई योजनाएं


मालूम हो कि योगी सरकार के कार्यकाल में क्रियाशील एयपाेर्टस की सख्या 4 से बढ़कर 7 हो गयी। कुशीनगर एयरपोर्ट को केंद्र सरकार अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घोषित कर चुकी है। इसका संचलन शीघ्र होने वाला है। इसके संचालित होने पर इसको शामिल करते हुए जल्दी ही प्रदेश में चार एअरपोर्ट लखनऊ, वाराणसी आैर जेवर अंतरराष्ट्रीय स्तर के हो जाएंगे। अलीगढ़, आजमगढ़, मुरादाबाद, श्रावस्ती के एअरपोर्ट बनकर लगभग तैयार हैं। चित्रकूट और सोनभद्र के एयरपोर्ट मार्च 2021 तक बन कर तैयार हो जाएंगे। एयर कनेक्टिविटी के लिहाज से उत्तर प्रदेश के लिए यह रिकॉर्ड उपलब्धि होगी।


सुखद और सुरक्षित यात्रा पर भी ध्यान


महानगरों में लोगों की यात्रा सुखद, सुरक्षित और तेज हो यह भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकताओं में रहा है। इसके लिए कई महानगरों में मेट्रो रेल पर काम चल रहा है। कुछ की परियोजनाएं अभी पाइपलाइन में हैं।


Also Read: UP Budget 2021: मजदूरों को घंटे के हिसाब पेमेंट, किसानों को मुफ्त पानी, सस्ते कर्ज का ऐलान, जानिए बजट में किसे क्या मिला


कानपुर एवं आगरा मेट्रो के लिए 597 और 478 करोड़


बजट में कानपुर और आगरा मेट्रो के लिए क्रमश: 597 और 478 करोड़ का प्रावधान किया गया है। वाराणसी, गोरखपुर और अन्य शहरों की मेट्रो परियोजनाओं के लिए बजट में 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है।


Also Read: महिलाओं व बेटियों के चौमुखी विकास पर केंद्रित है योगी सरकार का पांचवां बजट


आरआरटीएस कॉरिडोर के लिए 1326 करोड़


इसी क्रम में दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरीडोर के निर्माण के बाबत बजट में 1326 करोड़ का प्रावधान किया गया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: फरार IPS को हाई कोर्ट से बड़ा झटका, खारिज की जमानत याचिका

BT Bureau

लखनऊ में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की पोल खोलता ये Video, मां की मौत के घंटों इंतजार करते रहे बेटे, नहीं मिली एंबुलेंस

BT Bureau

लखनऊ: अवध शिल्प ग्राम में बनेगा अस्थाई कोविड अस्पताल, DRDO जल्द तैयार करेगा 300 बेड

BT Bureau