Breaking Tube
Government

गरीबों को फ्री राशन बांट योगी सरकार ने बनाया रिकार्ड, 1 करोड़ 60 हजार लोगों में वितरित किया 68,000 मीट्रिक टन

कोरोना वायरस (Corona Virus) पर लगाम लगाने के लिए लॉकडाउन लगाना पड़ा जिसके चलते दिहाड़ी मजदूरों, गरीबों की रोजी रोटी पर संकट आ गया जिसे देखते हुए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath) ने प्रदेशभर में फ्री राशन बांटने (Free Food Grain Distribution Ration) का निर्णय लिया. बुधवार से इस वितरण की शुरूआत हुई. पहले ही दिन सरकार ने 1 करोड़ 60 हजार लोगों को 68, 000 मीट्रिक टन राशन बांटकर रिकार्ड कायम कर दिया. प्राप्त आंकड़े मिल तक भी वितरण कार्य जारी है.


सीएम योगी के निर्देश पर खाद्य एवं रसद विभाग की तरफ से पहले चरण के तहत बुधवार 1 अप्रैल से ही पूरे प्रदेश में खाद्यान्न वितरण शुरू कर दिया गया. इसमें अंत्योदय कार्ड धारकों, मनरेगा श्रमिकों, श्रम विभाग में रजिस्टर्ड श्रमिकों तथा नगर विकास विभाग के दिहाड़ी मजदूरों को निशुल्क राशन वितरण किया जा रहा है. अप्रैल माह के द्वितीय चरण के तहत 15 अप्रैल से समस्त कार्ड धारकों को 5 किलो प्रति यूनिट की दर से निशुल्क राशन ( चावल) भी उपल्ब्ध कराया जायेगा.


मुख्यमंत्री ने कोरोना महामारी के दृष्टिगत ई-पास से वितरण के समय सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन कराने का निर्देश दिया है. जिसके चलते प्रत्येक उचित दर दुकान पर सैनिटाइजर/साबुन एवं पानी भी रखा जायेगा, ताकि हाथ धुलने के उपरांत ही ई-पास का इस्तेमाल किया जाये. राशन की दुकानों पर भीड़ न हो, सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इसके लिए प्रत्येक दुकानदार रोस्टर के हिसाब से राशन वितरित करने का निर्देश दिया गया है. साथ ही अगर कोई कोई व्यक्ति, परिवार, समुदाय, कस्बा या कॉलोनी को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है. तो उस तक होम डिलीवरी के माध्यम से राशन पहुंचाने के निर्देश दिये गये है.


राशन वितरण हेतु प्रत्येक उचित दर दुकान के लिये नोडल अधिकारी की नियुक्ति जिलाधिकारी द्वारा की गई है. उचित दर विक्रेता द्वारा नोडल अधिकारी तथा ग्राम प्रधान की उपस्थिति में ही हर पात्र मजदूर को राशन का वितरण कराने का निर्देश दिया गया है.


सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में कहीं भी कोई भूखा नहीं रहना चाहिए. अनाज के सरकारी गोदाम जरूरतमंदों के लिए 24 घंटे खुला रहने चाहिए. हर ज़रूरतमंद तक भोजन अवश्य पहुँचे। राजस्व विभाग मदद के लिए खोले टो-फ्री नंबर मुख्यमंत्री ने सीएम पोर्टल के अलावा हर ज़रूरतमंद की मदद के लिए तत्काल एक टोल फ़्री नंबर भी शुरू करने के आदेश राजस्व विभाग को दिए. और कहा कि कंट्रोल रूम शुरू कर पूरे प्रदेश की विधिवत मॉनिटरिंग की जाए. आसरा स्थलों में रह रहे लोगों की उनकी विशेषज्ञ, डॉक्टरों, सोशल स्टडी के विद्वानों की मदद से काउंसिल कराई जाए. फ़सल की कटाई के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि मंडियों को तैयार रखा जाए और ख़रीदारी के लिए जल्द से जल्द सारी तैयारियां सुनिश्चित करा ली जाएं.


Also Read: CM योगी सख्त: विदेश से आए लोगों की सूचना न देने वालों पर करें FIR, मानवता के खिलाफ कोशिश बर्दाश्त नहीं


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

ईद के दिन 5 करोड़ मुस्लिम स्टूडेंट्स को मोदी सरकार ने दी ‘ईदी’

BT Bureau

रोती हुई मासूम बच्ची का Video हुआ वायरल तो सीएम ने बना दिया ‘ग्रीन एंबेसडर’, इस सम्मान के पीछे की कहानी है बेहद दिलचस्प

S N Tiwari

जानिए क्या होता है अविश्वास प्रस्ताव और क्या हैं पेश करने के नियम?

BT Bureau