Breaking Tube
Government

यूपी: भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ योगी सरकार का जीरो टॉलरेंस, अब तक 45 पर हो चुकी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश में जब योगी सरकार (Yogi Government) आई थी तब से जीरो टॉलरेंस नीति शुरू कर दी गयी थी. जिसके बाद योगी सरकार ने अब तक तकरीबन 45 से अधिक अफसरों के खिलाफ सख्त कदम उठाया है. दरअसल, शासन ने पहले ही ये बात क्लियर कर दी थी कि किसी भी हालत में भ्रष्ट, बेलगाम और बेपरवाह अफसरों को बख्शा नहीं जाएगा. इसी के अंतर्गत ये कार्रवाई हुई है. हाल ही में नोएडा एसएसपी वैभव कृष्ण पर कई आरोप लगे थे, जिसके बाद उन्हें निलम्बित कर दिया था.


इन अफसरों पर गिर चुकी है गाज

जानकारी के मुताबिक, योगी सरकार (Yogi Government) के सत्ता में आते ही सबसे पहले लापरवाह अफसरों पर कार्रवाई शुरू की गयी थी. इनमे आईपीएस, पीपीएस, आईएएस और PCS अफसर शामिल हैं. इनमे से कईयों को प्रतीक्षारत रखा गया है तो कई अफसरों को निलम्बित कर दिया गया है. कुछ समय पहले ही भ्रष्टाचार के आरोप में ही तत्कालीन एसपी बाराबंकी डॉ.सतीश कुमार व तत्कालीन एसएसपी बुलंदशहर एन.कोलांची को निलंबित किया गया था. एडीजी जसवीर सिंह व एसपी अतुल शर्मा पर भी निलंबन की कार्रवाई हो चुकी है.


Also Read : योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, नोएडा SSP वैभव कृष्ण निलंबित, 5 कप्तान नपे, 8 IPS अफसरों का तबादला


इसी के साथ कई आईएएस अफसरों को जबरन रिटायर किया गया था. जिनमे 1980 बैच के शिशिर प्रियदर्शी, 1983 बैच के अतुल बगाई, 1985 बैच के अरुण आर्या, 1990 बैच के संजय भाटिया और 1997 बैच की रीता सिंह शामिल हैं. वहीं कई अफसरों को प्रतीक्षा सूची में डाला गया है, जिनमे अभय, विवेक, देवीशरण उपाध्याय, पवन कुमार, अजय कुमार सिंह, प्रशांत शर्मा, कल्पना अवस्थी और मोनिका एस. गर्ग शामिल हैं. इनके अलावा भी कई PCS अफसर हैं, जिनके खिलाफ कार्रवाई हुई है


Also Read: लखनऊ: महिला सिपाही ने SSP से की शिकायत, कहा- शारीरिक और मानसिक शोषण कर रहे प्रतिसार निरीक्षक, सबक सिखाने की दे रहे धमकी

v

45 से अधिक अफसरों पर हो चुकी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश में व्याप्त भ्रष्टाचार को काबू करने के लिए योगी सरकार ने अब ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति अपनानी शुरू कर दी है. भ्रष्टाचार और घपलों में लिप्त सरकारी कर्मचारियों एवं अफसरों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ रहा है. जैसे-जैसे जांच-पड़ताल हो रही है, वैसी आरोपियों पर गाज गिर रही है. अभी तक भ्रष्टाचार के खिलाफ योगी सरकार की ये सबसे बड़ी कार्रवाई है, जहाँ 45 अफसरों के खिलाफ कार्रवाई हो चुकी है


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी 

Related news

इतिहास में पहली बार तिरुपति मंदिर 6 दिनों के लिए बंद, दर्शन के लिए तरसेंगे लोग

Satya Prakash

1984 सिख दंगा पीड़ितों को मुआवजा न देने पर योगी सरकार की बढ़ीं मुश्किलें

BT Bureau

7th Pay Commission: बजट 2019 के बाद पीएम मोदी को याद आए सरकारी कर्मचारी, कर सकते हैं बड़े ऐलान

admin