Ind vs Pak : कैच छूटने के बाद ट्रोलिंग का शिकार हुए अर्शदीप सिंह, विकिपीडिया पर किसी ने बताया खालिस्तानी, भारत सरकार ने भेजा नोटिस

कल यानी कि रविवार को एशिया कप 2022 में भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत हुई थी। जिसमे पाकिस्तान ने भारत को पांच विकट से हरा दिया। आखिरी समय में ये मैच काफी रोमांचक बन गया था। ऐसे में जब एक युवा खिलाड़ी अर्शदीप सिंह के हाथ से एक कैच छूटा तो मैच हारने का टिकरा लोगों ने उन्हीं के सिर पर फोड़ना शुरू कर दिया। दरअसल, आसिफ अली ने कैच ड्रॉप होने के बाद चौके-छक्के भी मारे, अंत में भारत ने मैच गंवा दिया और फैन्स ने इस ड्रॉप कैच को ही हार का कारण भी बताया। ट्रोलिंग की हद तो तब पार हो गई जब विकिपीडिया पर उनको खालिस्तानी बताए गया। जब अर्शदीप की आलोचना हुई तो टीम के कई सीनियर और पूर्व प्लेयर्स ने उनका बचाव दिया। वहीं भारत सरकार ने विकिपीडिया को लेटर लिखा है।

भारत सरकार ने भेजा नोटिस

जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान ने यहां टीम इंडिया को पांच विकेट से हराया। यह मैच जब नाज़ुक मोड़ पर था, उस वक्त टीम इंडिया के युवा बॉलर अर्शदीप सिंह से एक कैच छूट गया। जिसको लेकर उनकी काफी आलोचना हो रही है, इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। बात सिर्फ ट्रोलिंग पर नहीं रुकी, विकिपीडिया पर अर्शदीप सिंह के पेज पर कुछ बदलाव किया गया और वहां पर ‘खालिस्तानी’ संगठन से संबंध की बात को जोड़ दिया गया।

इस मामले में अब भारत सरकार एक्टिव हुई है और आईटी मंत्रालय द्वारा विकिपीडिया को नोटिस भेजा गया है। आईटी मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, अर्शदीप सिंह के विकिपीडिया पेज पर खालिस्तान के समर्थन में होने का दावा कर दिया गया है। सूत्रों का कहना है कि ऐसा दर्शाना भारत में माहौल को बिगाड़ सकता है, साथ भी अर्शदीप सिंह के परिवार की सुरक्षा के लिए भी यह खतरा हो सकता है।

विराट कोहली ने क्या कहा?

पूर्व कप्तान विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘जब मैं पाकिस्तान के खिलाफ पहली बार खेला था, तब मैंने एक खराब शॉट खेला था और आउट हो गया था। उसके बाद मुझे लगा कि मैं कभी भी खेल नहीं पाउंगा। हर खिलाड़ी को बुरा लगता है लेकिन टीम का माहौल काफी अच्छा है, ऐसे में सभी सीनियर खिलाड़ी जूनियर प्लेयर्स को बैक करते हैं, हर कोई अपनी गलतियों से सीख कर आगे बढ़ता है, यह गेम का हिस्सा है।

विराट कोहली के अलावा पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान ने भी अर्शदीप के सपोर्ट में ट्वीट किया और लिखा कि अर्शदीप एक मज़बूत इंसान है, उसी तरह बने रहो। पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने लिखा कि अर्शदीप सिंह की आलोचना करना बंद कीजिए, कोई भी जानबूझकर कैच नहीं छोड़ता है। हमें अपने लड़कों पर गर्व है, पाकिस्तान ने यहां बेहतर खेल दिखाया।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )