Breaking Tube
International

पाकिस्तानी और तालिबानी कर रहे थे ट्रोल, अफगान उपराष्ट्रपति ने भारत के सामने आत्मसमर्पण की तस्वीर शेयर कर बंद कर दी बोलती

Afghanistan vice President amrullah saleh

पाकिस्तान और तालिबान आतंकवादियों की नापाक दोस्ती के खिलाफ अफगानिस्तान (Afghanistan) के उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह (vice President Amrullah Saleh) ने आवाज अपनी आवाज बुलंद की है। मंगलवार को अमरुल्ला सालेह अफगान राष्ट्रपति भवन में नमाज के दौरान रॉकेट हमले के बाद कुछ देर के लिए झुक गए थे, इस पर पाकिस्तानी और तालिबान उन्हें ट्विटर पर ट्रोल करने लगे। ऐसे में अमरुल्ला सालेह ने भारत की एक तस्वीर पोस्ट कर पाकिस्तानी ट्रोलर्स की बोलती बंद कर दी।


बता दें कि अफगान उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने जो तस्वीर पोस्ट की है वह 1971 के जंग की है, जिसमें पाकिस्तानों को भारतीय सेना के सामने सरेंडर करना पड़ा था। अमरुल्ला सालेह ने लिखा कि हमारे इतिहास में ऐसी कोई तस्वीर नहीं है और कभी ऐसी तस्वीर होगी भी नहीं। हां…कल जब रॉकेट हमारे ऊपर से गुजरा और कुछ ही दूरी पर गिरा तो मैं कुछ सेकेंड के लिए घबरा गया था। प्रिय पाकिस्तानी ट्विटर हमलावर तालिबान और आतंकवाद इस तस्वीर में आपको मिले जख्म को नहीं भरेंगे। कोई दूसरा रास्ता तलाश करिए।


अफगान उप राष्ट्रपति का ये ट्वीट देखते ही देखते वायरल हो गया और अब तक 8,000 से ज्यादा रीट्वीट हो चुका है। वहीं, 23 हजार से ज्यादा लोगों ने इसे लाइक किया है। इस ट्वीट के बाद पाकिस्तानियों की बोलती बंद हो गई। इससे पहले सालेह ने अफगानिस्तान की जंग में पाकिस्तान और तालिबान की नापाक दोस्ती का खुलासा दुनिया के सामने किया था।


सालेह ने ट्वीट कर दावा किया था कि पाकिस्तान वायु सेना ने अफगान सेना और वायु सेना को आधिकारिक चेतावनी जारी की है कि स्पिन बोल्डक क्षेत्र से तालिबान को हटाने के किसी भी कदम के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की जाएगी। अमरुल्ला सालेह ने आरोप लगाया था कि पाकिस्तानी वायु सेना अब तालिबान को कुछ इलाकों में नजदीकी हवाई सहायत मुहैया करा रही है।


Also Read: इंग्लैंड में रेप जिहाद! 13 से 20 साल की लड़कियों को बनाते थे शिकार, आसिफ़ समेत 31 को हुई जेल


जानकारी के अनुसार, स्पिन बोल्डक को पाकिस्तान में चमन बॉर्डर के नाम से जाना जाता है। इस बॉर्डर पर हाल ही में तालिबान ने अफगान सेना को खदेड़कर अपना कब्जा जमाया है। अफगानिस्तान के कंधार प्रांत के स्पिन बोल्डक इलाके में बनी सीमा चौकी पर कब्जा करने के बाद तालिबान के हाथ 3 अरब रुपए लगे हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

चीन के इन शहरों में नहीं आएगा सांता क्लॉस, चीन बोला- पश्चिमी सभ्यता को बढ़ावा देने से चीनी सभ्यता पर पड़ता है बुरा प्रभाव

BT Bureau

पाक रेल मंत्री शेख रशीद का दावा- अक्टूबर या उसके बाद होगा भारत से भीषण युद्ध

S N Tiwari

भारतीय सेना प्रमुख ने पाकिस्तान को लताड़ा, कहा- हम कोरोना संकट में दुनियाभर में दवा बांट रहे और तुम आतंकवाद

Jitendra Nishad