Breaking Tube
International

पाकिस्तान: नाबालिग हिंदू लड़की बोली- नहीं कबूल करना चाहती ‘इस्लाम’, अपहरण कर कराया गया था धर्मांतरण

पाकिस्तान (Pakistan) के जैकोबाबाद (Jacobabad) में 15 वर्षीय नाबालिग हिंदू बच्ची (Minor Hindu Girl) जबरन धर्मांतरण (Forced Conversion) मामले में लड़की का बड़ा बयान सामने आया है. महक कुमारी (Mehak Kumari) ने स्थानीय कोर्ट में अपना बयान दर्ज कराते हुए कहा कि मैं इस्लाम नहीं कबूल करना चाहती है. उसने बताया कि मेरी जिस मुस्लिम शख्स से अली रजा मिर्ची के साथ शादी हुई है, उसके साथ भी नहीं रहना. उसने गुहार लगाई कि उसे उसके मां-बाप के पास भेज दिया जाए.


अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक महक के वकील नारायणदास कपूर ने बताया कि कोर्ट के बाहर और अंदर मौलवियों की भारी संख्या में मौजूदगी को देखते हुए जज ने बंद कमरे के अंदर मामले की सुनवाई की गई. जिसमें महक ने इस्लाम न मंजूर होने की बात कही है, उसने वापस हिंदू धर्म में वापसी की इच्छा जताई है.


सिंध के जैकोबाबाद में रहने वाली 15 वर्षीय महक कुमारी (Mehak Kumari) 15 जनवरी से अपने घर से गायब थीं. इसके बाद उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर आसा जिसमें उन्‍होंने खुलासा किया अब वह इस्‍लाम कुबूल कर चुकी हैं और उनकी शादी एक मुसलमान लड़के अली रजा के साथ हो चुकी है. उनका एक नया वीडियो भी सामने आया है जिसमें वह अली रजा के साथ बैठी हुई नजर आ रही हैं. वीडियो में उन्‍हें कहते हुए सुना जा सकता है कि अब उनकी शादी रजा के साथ हो चुकी है.


पहले कहा था कि मर्जी से हुआ निकाह


महक कुमारी का नाम बदलकर अलिजा हो गया है अलिजा बनकर महक कह रही हैं, ‘मैंने अपनी मर्जी से इस्‍लाम कुबूला है और अब मेरा मुसलमान नाम अलिजा है. मैंने अमरोत शरीफ की दरगाह पर इस्‍लाम कुबूला है और फिर वहीं रजा के साथ शादी की है. वीडियो में महक का कहना है कि उनकी उम्र 18 साल है और अब अपने और अपने पति के लिए उन्‍हें सुरक्षा चाहिए. उन्‍होंने सिंध प्रांत के सुकेर जिले के स्‍थानीय अदालत में केस भी दर्ज कराया है. उन्‍होंने कहा है कि धर्मांतरण के बाद उन्‍हें अपने माता-पिता और हिंदू समुदाय से सुरक्षा चाहिए. वहीं परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी दबाव में आकर ऐसा बयान दे रही है. उससे जबरदस्ती कहलवाया जा रहा है.


50 हिंदू लड़कियों का जबरन धर्मांतरण कराया गया

हिंदू समुदाय का कहना है कि महक की उम्र बस 15 साल हैं और वह नौंवी कक्षा में पढ़ती है. समुदाय के एक प्रतिनिधि ने कहा, ‘हम महक को ननकी कुमारी कहकर बुलाते हैं. उसकी उम्र 15 साल है. आज उसे गए हुए कई दिन हो गए हैं और हम उसे लेकर चिंतित हैं. रोजाना हमारी लड़कियों का अपहरण कर लिया जाता है और उन्‍हें जबरन इस्‍लाम कुबूल करवाया जाता है. ऐसा करके वह हमें प्रताड़‍ित कर रहे हैं. इस प्रतिनिधि की मानें तो एक लिस्‍ट में उन 50 लड़कियों के नाम हैं जिन्‍हें पिछले कई वर्षों में अपहरण करके ले जाया गया और फिर उन्‍हें जबरन इस्‍लाम कुबूल करवाया गया है.


Also Read: पाकिस्तान में नहीं रुक रहा अल्पसंख्यकों पर अत्याचार, नाबालिग लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कराकर किया निकाह


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

नॉर्थ कोरिया-अमेरिका के बीच हुआ समझौता,ट्रंप ने कहा “हम सारी बाधाओं को पार कर मिल रहे हैं’

BT Bureau

PM मोदी की अंग्रेजी के कायल हुए डोनाल्ड ट्रंप, मजाक में कहा कुछ ऐसा कि सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा Video

S N Tiwari

इस होटल में हुई रोबोट्स की छटनी, गंवानी पड़ी 243 रोबोट्स को अपनी नौकरी

BT Bureau