Breaking Tube
International

भारत-नेपाल बॉर्डर पर चीन निर्मित टेंट में दिखी नेपाली आर्मी, भारत ने बढ़ाई चौकसी

Nepal army

भारत-नेपाल बॉर्डर पर नेपाल आर्मी (Nepal army) द्वारा अतिरिक्त पोस्ट बनाए जाने की सूचना के बाद भारत की तरफ से चौकसी बढ़ा दी गई है। मैनाटांड़ प्रखंड से लगने वाली नेपाल की सीमा में टिहुकी- चेरगाहां, बलुआ, मिर्जापुर, पांडेयपुर, दशावता, विशुनपुरवा में अतिरिक्त पोस्ट बने हैं। ये सभी नेपाली पोस्ट सीमा क्षेत्र पर लगे पिलर से 100 गज की दूरी पर नेपाली क्षेत्र में हैं।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मैनाटांड़ प्रखंड के भारत नेपाल सीमा क्षेत्र से सटे इनरवा, बसंतपुर, भेडि़हरवा, देवीगंज, नगरदेही के सामने नेपाली आर्मी के इन नए कैंपों पर अतिरिक्त जवानों की तैनाती की गई है। नेपाली एपीएफ के अस्थाई कैंप में चीन निर्मित टेंट लगाया गया है। नेपाल के टिकुही-चेरगाहां आउट पोस्ट के सामने भारत का भेड़िहारी गांव है। वहां के ग्रामीणों ने कहा कि वर्षों से यहां नेपाल का कोई आउटपोस्ट नहीं था। नया आउटपोस्ट खोला गया है। टेंट पर चीनी भाषा में कुछ लिखे जाने की सूचना है।


एसएसबी 47 वीं बटालियन सिकटा के इंस्पेक्टर अनिल कुमार ने कहा कि पहले से नेपाल का भी अस्थाई पोस्ट था। बारिश की वजह से उसे शिफ्ट कर रहा है। चीन निर्मित टेंट के बारे में जानकारी मिली थी। वर्ष 2015 में नेपाल में भूकंप आया था। उसी दौरान चीन ने सहायता के रूप में टेंट दिया था। इसका इस्तेमाल नेपाली आर्मी फिलवक्त बारिश से बचाव के रूप में कर रही है। नेपाल आर्मी के ये सभी पोस्ट पहले से भी संचालित थे।


वहीं, एसएसबी 47वीं बटालियन के कमांडेंट प्रियव्रत शर्मा ने कहा कि नेपाली क्षेत्र में लॉकडाउन के दौरान अतिरिक्त पोस्ट बनाए जाने की सूचना मिली थी। बॉर्डर पर जवानों को सतर्क रहने का निर्देश है। स्थिति सामान्य है। प्रत्येक गतिविधि पर एसएसबी की नजर है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

कोरोना: सिर्फ इनर वियर पहनकर इलाज कर रही नर्स, लोगों ने किया ट्रोल तो दिया ऐसा जवाब कि बोलती हुई बंद

BT Bureau

इमरान सरकार के सामने आर्थिक संकट, पाकिस्तान को दिया जाने वाला पैसा रोक सकता है चीन

BT Bureau

…और जब इमरान खान की पूर्व पत्नी पापा की आलमारी से कंडोम लेकर पहुंची थी कॉलेज

Jitendra Nishad