Breaking Tube
International

पाकिस्तान का क्रूर चेहरा, कोरोना मरीजों को जबरन भेज रही PoK और गिलगित

Pak PM Imran Khan said 50 terrorist groups are present in Pakistan

कोरोना वायरस (Corona Virus) जैसी वैश्विक महामारी के बीच भी पाकिस्तान (Pakistan) अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. स्थानीय लोगों के विरोध के बीच पाक सेना ने COVID 19 के मरीजों को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर और गिलगिट-बल्टिस्तान के क्षेत्र में भेजना शुरू कर दिया है. ये दोनों ही सबसे पिछड़े इलाकों में से हैं. अब तक पाकिस्तान में 1257 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि 9 लोगों की मौत हो चुकी है.


मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मीरपुर और दूसरे शहरों में स्पेशल क्वॉरंटीन सेंटर बनाए गए हैं जहां पंजाब के मरीजों को लाया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक पाक सेना के टॉप अफसरों ने यह साफ कर दिया है कि किसी भी कोरोना पॉजिटिव मरीज को आर्मी फसिलटी या सेना के घरों के पास न रखा जाए. नतीजन बड़ी संख्या में गाड़ियों में बंद करके ये मरीज POK और गिलगिट-बल्टिस्तान में लाए जा रहे है.


कश्मीरी लोगों का खतरे में पड़ सकता है जीवन

वहीं सेना के जबरन स्‍थानांतरित किए जाने के विरोध में स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. उनका कहना है कि इस क्षेत्र में पहले से ही बुनियादी सुविधाओं और चिकित्सा कर्मचारियों की कमी है. ऐसे में सेना की इस कार्रवाई से यहां के हालात और खराब हो सकते हैं. वहीं पीओके के लोगों को डर है कि अगर उनके क्षेत्र में इलाज के लिए यह केंद्र बनाए जाते हैं, तो महामारी पूरे क्षेत्र को अपने कब्जे में ले लेगी और कश्मीरी लोगों का जीवन खतरे में पड़ जाएगा.


महामारी फैलने की आशंका से चिंतित लोग

हालांकि पाकिस्तान सेना के शीर्ष अधिकारी इस बात से बिल्‍कुल भी चिंतित नहीं हैं. इसकी वजह यह हो सकती है कि पंजाब प्रांत की तुलना में पीओके और गिलगित बाल्टिस्तान का पाकिस्तान के लिए कोई राजनीतिक महत्व नहीं है. वहीं मुजफ्फराबाद के लोग महामारी फैलने की आशंका से डरे हुए हैं. ऐसा इसलिए भी है, क्योंकि इस क्षेत्र में मामूली बीमारियों से निपटने के लिए कोई स्वास्थ्य सुविधा नहीं है. स्‍थानीय लोगों का कहना है कि पाकिस्तानी सेना केवल पंजाब के बारे में सोचती है.


बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस का प्रकोप थम नहीं रहा है और संक्रमित मामलों की तादाद 1200 से अधिक हो गई है. पाकिस्‍तान में घातक वायरस के मामलों को आए हुए एक महीने से अधिक समय हो गया है और इस अवधि में इससे 9 लोगों की जान जा चुकी है.


Also Read: पाकिस्तान: अगले 3 महीने में 2 करोड़ हो सकते हैं कोरोना मरीज, भुखमरी के होंगे हालात!


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

पत्नी रेहम खान ने इमरान खान पर लगाया समलैंगिक होने का आरोप, बोली – कई पार्टी नेताओं से संबंध

admin

भारत ने बढ़ाया POK की तरफ कदम, बुरी तरह घबराया पाकिस्तान

BT Bureau

भारत विरोध के चक्कर में पगलाया पाकिस्तान, पूर्व उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने पोर्नस्टार को समझा कश्मीरी पीड़ित, लोगों ने जमकर उड़ाई खिल्ली

BT Bureau