Breaking Tube
International

जेल में बंद मरयम नवाज के बाथरूम में लगवाए गए थे खुफिया कैमरे, इमरान सरकार पर कई घिनौने इल्जाम

Pakistan Maryam Nawaz Imran government

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरयम नवाज (Maryam Nawaz) ने इमरान सरकार (Imran government) पर गंभीर आरोप लगाया है। मुस्लिम लीग-नवाज की उपाध्यक्ष मरयम नवाज के मुताबिक, जेल की जिस सेल में उन्हें रखा गया था, वहां खुफिया कैमरे लगाए गए थे। यहां तक कि उनके वॉशरूम में भी कैमरे लगाए गए थे। एक इंटरव्यू के दौरान मरयम नवाज ने उन असुविधाओं के बारे में बात की, जो पिछले साल चौधरी शुगर मिल्स मामले में गिरफ्तारी के बाद उन्हें झेलनी पड़ी थीं।


मरयम ने इमरा खान की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मैं दो बार जेल जा चुकी हूं, अगर मैं हिरासत में रहने के दौरान अपने और अन्य महिला कैदियों के साथ होने वाले सलूक के बारे में बिस्तार से बताती हूं, तो उन्हें अपना चेहरा छिपाने के लिए जगह नहीं मिलेगी।


Also Read: बदायूं: दारोगा पिता भाई से जबरन करा रहा था निकाह, तंग आकर घर से भागी मुस्लिम लड़की बनी हिंदू, परिवार पर यौन शोषण का आरोप


मरयम ने कहा कि अगर अधिकारी एक कमरे में घुसकर उनके पिता नवाज शरीफ के सामने उन्हें गिरफ्तार कर सकते हैं और उनपर निजी हमला कर सकते हैं तो पाकिस्तान में कोई महिला सुरक्षित नहीं है। इस दौरान मरयम ने कहा कि उनकी पार्टी संविधान के दायरे में सेना के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है, बशर्ते कि सत्ता में मौजूद इमरान सरकार को हटाया जाए।


उन्होंने आगे कहा कि वह सरकारी संस्थानों के खिलाफ नहीं हैं और इस बात पर जोर दिया कि बातचीत गुपचुप तरीके से नहीं होगी। मरयम ने यह भी कहा कि पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के मंच के माध्यम से बातचीत हो सकती है। पीएमएल-एन नेता को पिछले साल मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने दावा किया था कि नेशनल एकाउंटेबिलिटी (एनएबी) ने कानून का उल्लंघन करके उन्हें गिरफ्तार किया है और उन्हें राजनीतिक रूप से प्रताड़ित किया जा है।


Also Read: मेरठ: मुस्लिम लड़की हिंदू लड़के से करती प्यार लेकिन परिवार को नागवार, भाई बंधक बनाकर पीटते, पीड़िता ने जताया ऑनर किलिंग का खतरा


पिछले साल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री के विशेष सहायक शहजाद अकबर ने कहा था कि शरीफ परिवार ने मनी-लॉन्ड्रिंग और शेयर्स के अवैध हस्तांतरण के लिए चौधरी चीनी मिलों का इस्तेमाल किया। मिल के शेयर्स के माध्यम से 2008 में मरयम नवाज को 7 मिलियन से अधिक शेयर ट्रांसफर किए गए थे, जिन्हें 2010 में यूसुफ अब्बास शरीफ को ट्रांसफर कर दिया गया था।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

इजराइल: पीएम के बेटे का फेसबुक अकाउंट हुआ बंद, मुस्लिमों को लेकर किया था विवादित पोस्ट

BT Bureau

न्यूयॉर्क की सड़कों पर CAA के समर्थन में उतरे लोग, बताया मोदी सरकार का ऐतिहासिक कदम

S N Tiwari

अमेरिका ने जारी की एडवाइजरी- न जाएं पाकिस्तान, वहां बन रही है हमलों की योजना

admin