Breaking Tube
International

पाकिस्तान: मुस्लिमों युवाओं की आजीविका का सहारा बना 200 साल पुराना यह हिंदू मंदिर

पाकिस्तान (Pakistan) के कराची (Karachi) में 200 वर्ष पुराना एक मंदिर न सिर्फ देश के अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के लिए उपासना का एक महत्वपूर्ण स्थल है बल्कि इलाके के युवा एवं उद्यमी मुस्लिमों के लिए आय का एक स्रोत भी है. हिंदू समुदाय के लोग कराची बंदरगाह के पास ‘नेटिव जेट्टी’ (Native Jetty) पुल पर स्थित श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर (Shri Laxmi Narayan Mandir) में नियमित रूप से और धार्मिक उत्सवों के दौरान पूजा करने आते हैं और इसने स्थानीय मुस्लिम लड़कों के लिए आजीविका का विशेष जरिया पैदा किया है..


कराची में स्थित श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सत्ताधारी पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ के विधायक और पाकिस्तान हिंदू काउंसिल के सदस्य रमेश वंकवानी के मुताबिक यह मंदिर हिंदुओं के लिए काफी महत्वपूर्ण है. इसके साथ ही अंतिम क्रियाओं और अन्य धार्मिक अनुष्ठानों के लिए भी यह एक पवित्र स्थान है. उन्होंने कहा, ‘कराची में खाड़ी के किनारे पर स्थित यह अकेला मंदिर है. वंकवानी का कहना है कि यह मंदिर इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि पूजा करने के लिए हम हिंदुओं के लिए समुद्र के जल का खासा महत्व होता है. हम अनुष्ठानों में कई वस्तुएं समुद्र में प्रवाहित करते हैं.


200 year old hindu temple at jetti bridge karachi port

एक स्थानीय मुस्लिम युवक, शफीक ने कहा कि मंदिर आने वाले हिंदू पुल के नीचे समुद्र के पानी में कई चीजें प्रवाहित करते हैं जिनमें कीमती चीजें भी शामिल होती हैं और जिसका मतलब है कि स्थानीय लड़के अरब सागर से उसे एकत्र कर अपनी आजीविका कमा सकते हैं. शफीक (20) और 17 वर्षीय अली के साथ कुछ अन्य युवक नदी में श्रद्धालुओं द्वारा फेंकी गई चीजों को एकत्र करने के लिए समय-समय पर समुद्र में छलांग लगाते हैं और ये सामान जुटाते हैं.


Shri Laxmi Narayan Mandir

शफीक के मुताबिक, लड़कों को समुद्र के पानी से सोने-चांदी के आभूषण, सिक्के और अन्य कीमती चीजें मिलती रहती हैं. यह पूछने पर कि वे इन चीजों का क्या करते हैं, अली ने कहा कि वे उन्हें बेच देते हैं. हालांकि, उसे इस बात का भी मलाल है कि कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के चलते इस बार लोग मंदिर बहुत कम आ रहे हैं और उनकी आजीविका कठिन हो गई है.


Also Read: जानिए 90% मुस्लिम आबादी वाले इस देश में क्यों हो रहीं हिंदू रीति-रिवाजों की तारीफ


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

रूस के कार्यक्रम में PM मोदी होंगे चीफ गेस्‍ट, ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम का न्योता न मिलने पर पाक की किरकिरी

S N Tiwari

हैकर दे रहा था निजी तस्वीरें वायरल करने की धमकी, एक्ट्रेस ने खुद शेयर कर दीं न्यूड तस्वीरें

BT Bureau

ईराक: खुदाई के दौरान मिली भगवान श्रीराम और हनुमान की 6 हजार साल पुरानी प्रतिमाएं, भारत सरकार को दी जानकारी

S N Tiwari