भारत की जीत: ICJ में पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका, कुलभूषण जाधव की फांसी पर लगी रोक

अंतरराष्ट्रीय अदालत (ICJ) भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) से जुड़े मामले में अपना फैसला सुना दिया है. अदालत ने अपने फैसले में जाधव की फांसी पर रोक लगा दी है और साथ ही ये भी फरमान दिया है उनको काउंसलर एक्सेस की सुविधा भी मिलेगी. अदालत में मौजूद 16 जजों में से 15 जजों ने भारत के हक़ में फैसला दिया है. ये भारत की बड़ी जीत मानी जा रही है. पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने ‘‘जबरन अपराध कबूल करने’’ के आधार पर उसे मौत की सजा सुनाई थी जिसे भारत ने चुनौती दी.


ध्यान हो कि पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने 2017 में सुनवाई के बाद जासूसी और आतंकवाद के आरोपों में भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव को मौत की सजा सुनाई थी. भारत ने उनकी सजा पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में बंद कमरे में सुनवाई के बाद जासूसी और आतंकवाद के आरोपों में भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव (49) को मौत की सजा सुनाई थी. उनकी सजा पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी.


पाकिस्तान से जाधव को रिहा करने की अपीलों के बार-बार खारिज होने के बाद भारत ने इस संबंध में वाणिज्य दूतावास संबंधों पर वियना समझौते का खुला उल्लंघन का आरोप लगाते हुए आठ मई 2017 को हेग स्थित अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था. जाधव को जासूस कहने के पाकिस्तान के आरोप को बेबुनियद बताते हुए भारत ने वैश्विक अदालत में कहा कि जाधव की गिरफ्तारी के बहुत समय बाद तक इसकी सूचना नहीं दी गई और पाकिस्तान ने आरोपी को भी उसके अधिकार नहीं बताए. 


Also Read: मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद लाहौर से गिरफ्तार, वकील ने कहा- सब ड्रामा है, दुनिया को पागल बना रहा पाकिस्तान


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )