Breaking Tube
Lifestyle

चमत्कारी गुणों से भरपूर है दूब घास, फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप

लाइफस्टाइल: हम अपनी सेहत के लिए क्या कुछ नहीं करते, स्वस्थ्य रहना हमारे लिए बहुत ही जरूरी है. इसके लिए जरूरी है कि हमारे खान-पान के साथ हमारी दिनचर्या भी अच्छी रहे. कई लोग तो अपने स्वास्थ्य के लिए खान-पान से लेकर जरूरी सप्लीमेंट्स भी लेते हैं लेकिन फिर भी वो किसी न किसी शरीरिक समस्या से घिरे रहते हैं. ऐसे में अगर कुछ सेहतमंद करने के लिए कुछ उपयोगी है तो वो आयुर्वेद का सहारा. जी हां, आयुर्वेद मनुष्य के लिए वरदान हैं, क्योंकि इसमें कृत्रिम दवाओं के ऊपर निर्भरता नहीं होती है, बल्कि इसमें प्राकृतिक संसाधनों के जरिए बेहतर स्वास्थय का लक्ष्य साधा जाता है. आयुर्वेद में जड़ी बुटियों से लेकर घास-फूस के जरिए दुर्लभ रोगों का इलाज किया जाता है. आज हम आपको एक ही घास के महत्व के बारे में बताने जा रहे हैं, जो जो कई तरह के रोग-विकारों को खत्म करने की क्षमता रखता है.


हमारे आस पास कई ऐसे संसाधन होते हैं, जो हमें स्वस्थ्य रहने में बहुत मदद करते हैं. वहीँ दूब घास जो घरों के बाहर, मैदानों की मिट्टी में घास की तरह जमीन पर फ़ैल जाती है. आपको ये दूब घास बेकार लग सकती है पर आयुर्वेद की माने तो ये बेहद गुणकारी औषधि है. जो कि चमत्कारी ढंग से कई रोगों मे कारगर साबित होती है.


-तो चलिए दूब घास के कुछ ऐसे ही स्वास्थय लाभ के बारे में जानते हैं..


दूब घास में एनीमिया को ठीक करने की चमत्कारी क्षमता होती है. दरअसल इसीलिए दूब के रस को हरा रक्त भी कहा जाता है, क्योंकि इसे पीने से एनीमिया की समस्याक से निजात मिलती है.


दूब स्वाद में भले कड़वी होती है, पर ये शरीर को ठंडक देती है. साथ ही दूब के रस के सेवन से रक्त विकार भी खत्म होते हैं.


दूब घास में विटामिन ‘ए’ और ‘सी’ प्रचूर मात्रा में होती है. ऐसे में दूब के रस का सेवन से आँखों के लिए विशेष लाभकारी है, इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है. वहीं घास पर पर नंगे पांव चलना भी आंखों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है.


दूब घास, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी सहायक है. दरअसल दूब घास एंटीवायरल और एंटीमाइक्रोबिल गुणों से भरपूर होती है. ऐसे में इसके सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.


वहीं पौष्टिकता से भरपूर दूब घास शरीर को एक्टिव बनाये रखने में बेहद मददगार साबित होती है. इसके नियमित रूप से सेवन से अनिद्रा, थकान, तनाव जैसे रोगों से निजात मिलता है है.


Also Read: तुलसी है आयुर्वेद का खजाना, इन रोगों में होते हैं बेजोड़ फायदे


Also Read:  बालों के लिए वरदान है नारियल तेल की मालिश, ऐसे करें इस्तेमाल 


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

गर्मियों में पुरुषों के लिए सबसे ज्यादा लाभकारी है मटके का पानी, स्वाद और सेहत का ख़जाना

Satya Prakash

कोरोना से बचाव के लिए गलती से भी न करें इन चीजों का सेवन, अपनाएं के छोटे-छोटे Tips

Satya Prakash

योग दिवस के पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुईं ‘Nude योगा गर्ल’ की तस्वीरें

Satya Prakash