Breaking Tube
Lifestyle

दिल की सेहत के लिए वरदान है अखरोट, जानें कितना और कब करें सेवन

लाइफस्टाइल: हमारे दिल और दिमाग का स्वस्थ्य होना बहुत जरूरी होता है. जिनका ह्रदय और शरीर स्वस्थ्य होता है उनको किसी भी तरीके की समस्या जल्दी नहीं होती. जो भी हम खाते-पीते हैं उसके आधार पर ही हमारा शरीर स्वस्थ्य और अस्वस्थ्य होता है. हमारा खान-पान ही निर्धारित करता है कि हमारे वजन और ह्रदय को किस प्रकार से स्वस्थ्य रहना है. इसलिए अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए, जो इसकी सेहत को बढ़ावा दे. कुछ सूखे मेवों का सेवन इसकी सेहत को बढ़ाने के साथ-साथ संपूर्ण स्वास्थ्य को भी फायदा देता है. इसके लिए अखरोट को आहार में शामिल कर सकते हैं.


ड्राई फ्रूट्स यानि सूखे मेवे न केवल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं बल्कि इनमें कई बायोएक्टिव घटक भी मौजूद होते हैं जो सेहत को दुरुस्त रखने में मदद करते हैं. अखरोट मस्तिष्क के साथ-साथ हृदय के लिए भी फायदेमंद होता है. यह हृदय के कार्यों को संचालित व नियमित करता है और उसमें सुधार भी लाता है. अखरोट में ओमेगा फैटी एसिड ज्यादा मात्रा में पाया जाता है, जिसके कारण यह कार्डियोवैस्कूलर सिस्टम के लिए बहुत लाभकारी होता है. ओमेगा 3 फैटी एसिड शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं जो कि हृदय के लिए फायदेमंद है.


यह भी पाया गया है कि रोजाना केवल कुछ अखरोट खाने से ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद मिल सकती है, इसलिए हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को इसका सेवन जरूर करना चाहिए. हाई ब्लड प्रेशर की स्थिति में कोशिकाओं में उच्च दबाव के खिलाफ रक्त पंप करने से हृदय की मांसपेशियां मोटी हो जाती हैं. आखिरी में मोटी मांसपेशियों को शरीर की जरूरत पूरी करने में दिक्कत होगी और वह पर्याप्त रक्त को पंप नहीं कर पाएंगी. इस वजह से हृदय रुक सकता है.


अखरोट विटामिन बी, फाइबर, मैग्नीशियम और एंटीऑक्सिडेंट जैसे विटामिन ई से भरपूर हैं. अखरोट प्रोटीन के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक हैं. अखरोट सूजन को नियंत्रित करने, वजन घटाने में भी मदद करता है. ये सभी गुण एक साथ हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं.


कब और कितना खाएं अखरोट-


अखरोट में कैलोरी ज्यादा होती है और उन्हें संयम से सेवन करने की सलाह दी जाती है. अधिक मात्रा में सेवन वजन बढ़ा सकता है. अखरोट के अधिक सेवन को डायरिया से भी जोड़ा गया है. लोगों को लगता है कि इसमें फैट बहुत मात्रा में होता और ये शरीर का वजन बढ़ा देगा, लेकिन इसके विपरीत सीमित मात्रा में अखरोट का सेवन वजन कम करने में भी मदद करता है, क्योंकि सही मात्रा में प्रोटीन, फैट्स और कैलोरी मिली हुई है.


रोजाना एक से दो अखरोट का सेवन सुबह या शाम के नाश्ते के रूप में किया जा सकता है. एक दिन में पांच से ज्यादा अखरोट का सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है. यह गर्म होता है और बुखार, छालें जैसी बीमारी बढ़ा सकता है. कफ हो तो इसका सेवन न करें. खाली पेट अखरोट का सेवन न करें. अखरोट के तेल से कुछ दिनों के लिए पेट में जलन हो सकती है.


Also Read: याददाश्त बढ़ानी है तो दिमाग को रखें हल्का, करें ये काम 


Also Read: रोजाना सूर्य नमस्कार से होते चमत्कारिक फायदे, बीमारियों को भगाने में रामबाण हैं ये योगासन


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

Lockdown 3: 4 मई से Green Zone में चलेंगी बसें, जानें क्या-क्या दी गई हैं छूट

Satya Prakash

शोध में खुलासा: खुली सतहों पर 2 दिन और हवा में इतने घंटे जिन्दा रहता है जानलेवा Corona Virus

Satya Prakash

7 फरवरी से शुरू होगा Valentines Week, यहाँ देखें पूरे दिनों की List

Satya Prakash