Breaking Tube
Corona Lifestyle

बड़ी खुशखबरी: भारत में मिलेगी मात्र 59 रुपये में कोरोना की दवा, जल्द ही बाज़ारों में होगी उपलब्ध

लाइफस्टाइल: कोरोना महामारी के प्रकोप से दुनिया के कई लोग हैरान-परेशान हैं, इसकी वजह से लोग घरों से बाहर तक निकलने में घबरा रहे हैं. कोरोना से बचाव के लिए अभी तक कोई भी वैक्सीन नहीं बनी है लेकिन अब यह खबर आ रही है कि इस बीमारी की सबसे सस्ती दवा भारत में मिलने जा रही है. इस दवा को भारत के बाज़ारों में लाने की अनुमति भी एक कंपनी को मिल चुकी है. यह दवा ड्रग्स कंट्रोलर ऑफ इंडिया को बाजार में लाने की अनुमति मिल चुकी है.


COVID-19: Officials seek consent from workers to resume works- The ...

लेकिन इसकी खास बात तो यह है कि इस दवा की एक टैबलेट मात्र 59 रुपये में मिलेगी. इसका नाम है फैवीटॉन. इस दवा को ब्रिन्टन फार्मास्यूटिकल्स ने बनाया है. इस कंपनी का दावा है कि यह एंटीवायरल ड्रग है, यह कोरोना वायरस से लड़ने में मदद करेगी. अभी तक इस दवा को फैवीपिरावीर नाम से बा जार में बेचा जाता है.


वेब मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिन्टन फार्मा ने बताया है कि कि फैवीटॉन दवा 200 मिलीग्राम की टैबलेट में आएगी. टैबलेट की 59 रुपये की कीमत मैक्सिमम रिटेल प्राइस होगी. यह दवा इससे ज्यादा कीमत पर नहीं बेची जा सकेगी. उन्होंने कहा कि इस दवा को वह हर कोविड सेंटर पर पहुंचाएंगे. उन्होंने बताया कि उनकी दवा की कीमत भी फिक्स है. जो काफी सस्ती है. इस समय फैवीपिरावीर दवा की जरूरत सबको है. कंपनी के सीएमडी ने दावा किया कि उन मरीजों के लिए यह दवा बेहतरीन है, जिन्हें कोरोना का हल्का या मध्यम दर्जे का संक्रमण है.


यहॉ नहीं कोरोना वायरस की खतरनाक स्थिति को देखते हुए भारत में फैवीपिरावीर को जून में अप्रूवल दिया था. इसे अब जाकर बाजार में लाने की अनुमति मिली है. इसके अलावा ब्रिन्टन फार्मा जापान की फूजीफिल्म तॉयोमा केमिकल कंपनी के साथ मिलकर एवीगन नामक एक दवा बना रही है. यह दवा फैवीटॉन का जेनेरिक वर्जन है.


आपको बता दें कि कि पिछले 24 घंटों के दौरान पूरी दुनिया में दो लाख 98 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए. इस दौरान करीब सात हजार लोगों की मौत हुई. कोरोना ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया. अमेरिका, ब्राजील, भारत, रूस और दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है.


Also Read:  शरीर के इन अंगों में कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा, एक गलती से जा सकती है जान


Also Read: शरीर के इन अंगों में कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा, एक गलती से जा सकती है जान 


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

चरमपंथ और कट्टरवाद समाप्त करने के लिए भाजपा नेता ने मांगे जनता से सुझाव, SC में दाखिल करेंगे जनहित याचिका

BT Bureau

धतूरे के इस्तेमाल से दूर होता है गंजापन, इन बीमारियों में भी है रामबाण

Satya Prakash

Covid-19 प्रभावित शीर्ष 10 राज्यों में सबसे निचले पायदान पर UP, एक दिन में 1,14,822 टेस्ट करने वाला देश का पहला राज्य

BT Bureau