Breaking Tube
Lifestyle

अगर आप भी चाहते हैं आकर्षक बॉडी तो करें प्‍लैंक एक्‍सरसाइज, जानिए इसके फायदे

लाइफस्टाइल: खूबसूरत और आकर्षक बॉडी किसको नहीं पसंद हर कोई चाहता है वो फिट रहे और उसकी बॉडी देखने में अच्छी लगे. ऐसे में कई तरह की एक्सरसाइज होती हैं जो हमारे शरीर को फिट रखने में मदद करते हैं लेकिन इन सब में प्लैंक एक्सरसाइज ऐसी होती हैं जो हमारे बॉडीवेट से हो जाती है. प्लैंक हमारे बैली फैट से लेकर कूल्हों पर जमा एक्स्ट्रा फैट को भी कण्ट्रोल करने में काफी फायदेमन्द होता है. वहीँ अगर आप सिक्स पैक एब्स भी बनाने की ख्वाहिश रखते हैं तो इसके लिए भी प्लैंक एक्सरसाइज कर सकते हैं. प्लैंक करने से पेट की मसल्स मजबूत होती है और ओवर ऑल बॉडी पोश्‍चर स्‍ट्रॉन्‍ग दिखती है. प्लैंक एक्सरसाइज के कई प्रकार हैं. हर प्लैंक की अलग-अलग पोजीशन होती है. आइए जानते हैं कि प्लैंक एक्सरसाइज कैसे करते हैं और इसे करते समय किन बातों का ध्‍यान रखा जाना चाहिये.


ऐसे करें प्‍लैंक एक्सरसाइज-


प्‍लैंक एक्सरसाइज करने के लिए सबसे पहले आप साधारण फुल प्लैंक आर्म एक्सरसाइज के लिए सबसे पहले पुश-अप्स पोजीशन में आ जाएं और शरीर का पोश्‍चर सीधा रखें. अब जितनी देर हो सके इसी स्थिति में रहने की कोशिश करें.

प्लैंक पोजिशन में आएं और पैरों को कुर्सी की मदद से एक फीट की ऊंचाई पर रखें. पोश्‍चर सीधा रखें.

मेडिसिन बॉल प्लैंक के लिए प्लैंक पोजिशन में आने के बाद पैरों को फ्लोर के बदले मेडिसिन बॉल पर रखें. यह प्‍लैंक दिखने में आसान लगता है लेकिन इसके लिए बैलेंस जरूरी है .

इसमें नॉर्मल प्लैंक पोजीशन लें और कोहनियों को फ्लोर पर ही रखें. लेकिन अपना एक पैर उठाकर हवा में रखें. कुछ मिनट ऐसे ही रहें और कुछ देर बाद दूसरे पैर से यह पोजीशन लें.


प्लैंक के फायदे-


प्लैंक एक बेहतरीन वर्कआउट है जिसे करने के लिए किसी भी टूल्‍स की जरूरत नहीं पड़ती. आप इसे कहीं भी कभी भी कर सकते हैं.

ये अकेली एक्सरसाइज लगभग पूरे शरीर को मजबूत बनाती है और बॉडी को शेप में रखती है. पेट की चर्बी भी कम करने के लिए यह बेस्‍ट एक्‍सरसाइज है.

कोर मसल्स को मजबूत बनाने में प्लैंक एक्सरसाइज बहुत कारगर है.

प्लैंक एक्सरसाइज से न सिर्फ मसल्स और शरीर मजबूत बनता है, बल्कि शरीर का संतुलन भी अच्छा होता है.

नेशनल ऑस्टियोपोरोसिस फाउंडेशन, ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव के लिए प्लैंक एक्सरसाइज की सलाह देता है.

रोजाना प्लैंक एक्सरसाइज के अभ्यास से पीठ के निचले हिस्से की मांसपेशियां मजबूत होती हैं. यह गर्दन और रीढ़ की हड्डी को भी सपोर्ट देता है.


प्लैंक करते समय रखें इन बातों का ध्‍यान-


प्लैंक करते समय कमर को सीधा ही रखें, साथ ही अगर आपकी कोर मसल्स कमजोर हैं तो प्लैंक न करें. गर्दन में दर्द हो रहा है तो भी प्लैंक ना करें. अगर किसी तरह की हेल्‍थ प्रॉब्‍लम है तो डॉक्‍टर की सलाह के बिना प्‍लैंक ना करें


Also Read: अगर आप भी हैं डार्क सर्कल्स की समस्या से परेशान, तो अपनाएं ये आसान Tips


Also Read: चेहरे के मुहासों से लेकर इन रोगों में भी लाभकारी हैं केले का छिलके, बस ऐसे करें इस्तेमाल


Also Read: वजन कम करने के साथ इन बीमारियों में भी लाभकारी है जीरे का पानी, जानिए इसके बेजोड़ फायदे


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

महिला दिवस पर जानें भारतीय संविधान से महिलाओं को मिले कौन से अधिकार

Satya Prakash

जिंदगी में स्ट्रेस फ्री और पॉजिटिव रहने के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 सुपरफूड

Satya Prakash

इस ट्रिक के इस्तेमाल से सेक्स में होगी परम-आनंद की अनुभूति, कामसूत्र का सैकड़ों साल पुराना अद्भुत राज़

Satya Prakash